जिलाधिकारी द्वारा खनिज विभाग का औचक निरीक्षण

33*खनिज विभाग में औचक पहुंच जिलाधिकारीने की जांच पड़ताल, दिये निर्देश
झांसी। जिलाधिकारी कर्ण सिंह चौहान आज अचानक खनिज विभाग पहुंचे। वहां उन्होंने खनिज विभाग द्वारा एम.एम 11 जारी करने का स्टॉक के सम्बन्ध में जानकारी ली। निरीक्षण में स्टॉक के रखरखाव पर असंतोष व्यक्त किया तथा स्टॉक के रख रखाव को नियमतय जल्द सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने खनिज विभाग पहुंच कर उपस्थित ठेकेदारो सहित अधिकारियों की तलाशी ली, उन्होंने खनिज अधिकारी से स्टाक सम्बंध में बिन्दुवार जानकारी प्राप्त की जो खनिज अधिकारी उपलब्ध नहीं करा सके। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित पटल लिपिक से एम.एम 11 की जानकारी ली साथ ही एम.एम 11 कब जारी किये गये। उससे सम्बन्धित रजिस्टर का सत्यापन किया, जिसमें अपूर्ण सूचनायें देख नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने ओपनिंग स्टाक और क्लोजिंग स्टाक की जानकारी सही रजिस्टर में दर्ज करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिये एम.एम 11 जारी होने के बाद आवेदनकर्ता, ठेकेदार को दे दी जाये स्टाक कतई न रखा जायें। उन्होंने एम.एम 11 देने के बाद प्राप्ती रिसीविंग की भी जानकारी ली और सम्बन्धित रजिस्टर का सत्यापन किया।
उन्होंने रजिस्टर का निरीक्षण करते हुये नाराजगी व्यक्त की और निर्देश दिये कि रजिस्टर के पेज सत्यापित किये जाये। यदि पुनः जांच मे यह कमी पायी जाती है तो कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने डिस्पैच रजिस्टर में खाली एन्ट्री पर भी नाराजगी व्यक्त की और कहा कि डिस्पैच रजिस्टर में नियमतय एन्ट्री की जायें। यदि स्थान खाली रखा जाता है तो माना जायेगा कि भ्रष्टाचार हो रहा है।
उन्होंन स्टाक का भी सत्यापन किया। मौके पर हरी किताबे ट्रेक्टर्स के लिये कुल 104 उपलब्ध थी। पीली किताबे 6 और 10 चक्का गाड़ियो के लिये कुल 84 किताबे उपलब्ध रही तथा लाल किताबे जो 12.16.18 चक्का की व अन्य गाड़ियो के लिये 1 किताब उपलब्ध थी। जिलाधिकारी ने प्रत्येक किताबो के फार्म की भी जांच की।
जिलाधिकारी श्री चौहान ने ऐजेसिंयो को नोटिस जारी किये जो नियत स्थान के अतिरिक्त अन्य स्थानो से खनन कर रहे थे। राजकुमार गुप्ता पुत्र एस.के गुप्ता, शमशेरपुरा टहरौली, तोमर बिल्डर्स एण्ड कन्ट्रेक्टर्स पचौरी मऊरानीपुर तथा वेतवा ट्रेडिंग कम्पनी धवाकर मऊरानीपुर के साथ आशीष राय पुत्र दीपचन्द्र राय खिरिया पाली शामिल है। यदि पुनः यह कृत्य किया जाता है तो सख्त कार्यवाही की जायेगी।
इस मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र कुमार शुक्ला, जिला खान अधिकारी मो. महबूब, प्रभारी क्षेत्रीय अधिकारी मनोज कुमार, खनिज श्रीमती पूर्णिमा श्रीवास्तव, कनिष्ठ लिपिक शिव पूजन सहित अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

Share Button

80 वर्ष की वृद्ध माँ की रोती आंखें सुना रहीं दर्द भरी दास्तान

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150झांसी। लोगो द्वारा कहा जाता है कि पृथ्वी पर अनाचार व्यविचार एवं अधर्म का बोलबाला हो तो मानो घोर कलियुग आ गया है। इसी नजरिया का अहसास आज उस वक्त हुआ। जब महानगर के खातीबाबा क्षेत्र में स्थित भारत माता मंदिर के पास अपने ही औलाद द्वारा प्रताड़ित एवं ढुकराई गई करूण कन्दन, करती बेचार बेहाल व जर-जर शरीर वाली बुजुर्ग महिला को देख कर हुआ।
अपनों को तलाशती एक बुढ़ी मां की सूनी आंखें बेदर्द जमाने की अनगिनत दास्तान कह रही हैं। उसका कसूर क्या है। इसकि अपने ही कोख से जन्मे पुत्र ने सडक पर बेसहारा छोड़ दिया। 80 साल की बुढ़ी मां को उसकी औलाद ने घर से बाहर कर दिया। यही नहीं उसके हाथ के कंगन तक छीन लिये।ऐसी दर्द भरी दास्तान से लिपटी एक बुजुर्ग मां की बेबस तस्वीर देख लोगो को रोगटे खड़े हो गये है।
अपनी किस्मत को कोसती उस मां की तस्वीर स्वयं बहुत कुछ कहानी कहती नजर आ रही है। आखिर कसूर क्या है उस जननी का,. जो आज ठोकरे खाने के लिए सडक पर छोड़ दी गई है। आखिर क्या जमाना है कि जिस औलाद को नौ माह कोख में पाला, अपने भूखे रह कर उनकों खिलाया पाला पोसा बड़ा किया और अब वही औलाद एक मां को नहीं पाल पा रही है। कहा जाता कि मां 10 औलाद को पाल सकती है पर दस औलाद एक मां को नहीं पाल सकते। य थाना प्रेमनगर अंतर्गत खातीबाबा क्षेत्र में भारत माता मंदिर के पास यह बुजुर्ग महिला अपनी औलादों द्वारा ठुकरये जाने के बाद आपनी किस्मत को बैठी कोस रही है। उसकी बुढ़ी आंखे लाचारी लिए अपनी किस्मत पर आंसू बहा रही हैं।

Share Button

मृत पत्नी के बुलाने पर पति कुये में कूदा

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150झांसी। लोगो का कहना है मानव शरीर छोड़ने के पश्चात आत्मा भटकती रहती है और वह जीवित व्यक्तियों को परेशान करती रहती है जब तक उसका वरण तारण नहीं हो जाता है। ऐसा ही वाक्या जनपद के थाना बबीना क्षेत्र में देखने को मिला। जहां पत्नी की आत्मा के बुलाने पर उसने उसी कुंये में झलांग लगा दी। जिस कुये में गिरकर उसकी पत्नी की मौत हुई थी।
जनपद के बबीना थाना क्षेत्र में रहने वाले रामचन्द्र स्टेशन पर चाय बेचने का काम करता है। पिछले महीनों उसकी पत्नी ने किसी कारण कस्बे में स्थित कूंए में कूंदकर आत्महत्या कर ली थी। स्थानीय लोगों की मानें तो रामचन्द्र का कहना है कि उसे अपनी पत्नी की मौत का काफी गम है। रामचन्द्र शराब पीने का आदी हो गया और उसका कहना है कि उसकी पत्नी उसे कुंए में नजर आती है और वह बुलाती है। जिस कारण वह कुंए में कूद गया। इससे पहले उसकी मौत होती ग्रामीणों ने उसे बचा लिया। इससे पहले भी वह कई बार कुंए में कूंद चुका है।

Share Button

युवाओं ने बदली हमीरपुर के उजड़े गांव की तस्वीर

30 HMP 04*जमीनी जल स्तर भी बढ़ा, उत्पादन में बढोत्तरी
हमीरपुर। बाढ के पानी ने जिस गांव को 3 बार बहाकर तहस नहस किया उसी गांव के युवाओं ने पानी को संचित कर गांव की दशा और दिशा ही बदल डाली। यह कहानी है हमीरपुर जिले के आखिरी गांव गुढा की। जो चन्द्रावल नदी के किनारे बसा है। इस गांव को चन्द्रावल नदी ने अपनी बाढ से तीन बार उजाडा, जिसकी पुष्टि गांव के खण्डहर करते हैं। गांव के तीन चौथाई जमीन उबड खाबड है। गर्मी में यहां एक कुंआ पूरे गांव का सहारा होता था, जिसे हीरा सेठ के कुंआ के नाम से जाना जाता है। एक जमाना था जब गांव के लोग चन्द्रावल नदी में गडढा खोदकर पीने का पानी निकालते थे जिसे चूहा कहा जाता था दो चार बाल्टी पानी निकालने के बाद चूहे में पानी खत्म हो जाता था, जिसके लिये 4-6 घंटे इन्तजार करना पडता था। आखिर पूरे गांव को एक कुआं और चूहा पानी कैसे पूरा कर पाता। मगर आजादी के बाद असफल सरकारी प्रयासों की नीव पर युवाओं का जोश रंग लाया। हालांकि गांव में पानी की टंकी बाद में बनाई गयी मगर उससे गांव के लोगों को एक बूंद पानी नही मिल सका। गिरते फसल उत्पादन और पीने के पानी की समस्या ने पलायन को बढावा दिया। गांव के शिवमंगल प्रजापति ने समस्या का हल खोजने के लिये मृदा परीक्षण प्रयोगशाला के अध्यक्ष एम हबीब खान से सम्पर्क साधा उन्होने गांव में एक साल में 31 तालाब खुदवा दिये। जिसमें सरकारी पैसा आडे आया तो गांव के ही जोगेन्द्र द्विवेदी ने इन युवाओं को आर्थिक सहायता देकर उत्साह में कमी नही आने दी। परिणाम स्वरूप गांव के तालाबों ने जहां सिंचाई में मदद की। उससे उत्पादन बढा। भूगर्भ का जल स्तर भी गिरने से रोका। आज यह लोग रबी की फसल में 2-3 बार सिंचाई करते हैं, गर्मियों में जानवरों के पीने के पानी की व्यवस्था हो गयी है। हैण्डपम्प भी बराबर साथ दे रहे हैं। कृषि विज्ञान केन्द्र के डाक्टर एसपी सोनकर ने युवाओं को कम समय में अधिक उत्पादन देने वाली फसलों के बीज मुहैया कराये और आगे भी सहयोग देने को कहा तो युवाओं का उत्साह चार गुना बढ गया। अपने गांव की दशा बदलने में लगे इन युवाओं के उत्साह ने पडोसी गांव के युवकों को प्रेरणा दी है। क्योंकि इस गांव में दो दशक पहले खेत से बीज की वापसी नही होती थी आज वहां 5-7 कुन्तल प्रति बीघा उत्पादन हो रहा है। दलहन उत्पादन में तो अभूतपूर्व क्रान्ति आ गयी है।

Share Button

जीएसटी के विरोध में हमीरपुर बन्द पूरी तरह से सफल

30 HMP 02
जीएसटी के विरोध में बन्द पडे व्यापारिक प्रतिष्ठान

हमीरपुर। जीएसटी के विरोध में हमीरपुर बन्द पूरी तरह से सफल रहा। पूरे दिन दुकानें बन्द रहीं। हमीरपुर मुख्यालय समेत जिले के कस्बों में भी व्यापारिक प्रतिष्ठान बन्द रहे। राठ में व्यापारियों ने जुलूस निकालकर प्रदर्शन भी किया। हमीरपुर मुख्यालय में सूर्यकुमार तिवारी व्यापारी नेता की अगुवाई में व्यापारियों ने ज्ञापन देकर कहा कि हमीरपुर बहुत छोटा शहर है। यहां छोटे व्यापारी रहते हैं। इसलिये इसे जीएसटी के दायरे से अलग रखा जाये। क्योंकि छोटा व्यापारी थोडा थोडा माल दस जगह से खरीद करता है और वह पढा लिखा भी कम होता है। इसलिये जीएसटी का लेखा जोखा नही रख सकता। ज्ञापन देने वालों में रामबाबू गुप्ता, सन्तोष सचान, रामनारायन ओमर, मुकेश, अशोक, ज्ञानेन्द्र तिवारी, हृदेश मिश्रा, मनीष निगम, अजय तिवारी, मेहेर भूषण, राकेश गुप्ता प्रमुख रहे।

Share Button

नाती बाबा और दो चाचा को हत्या के मामले में आजीवन कारावास

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150हमीरपुर। नाती बाबा और दो सगे चाचा को हत्या के मामले में आजीवन कारावास और जुर्माना की सजा सुनाई गई है। घटना 09 जुलाई 2003 को राठ कोतवाली के चिल्ली गांव में गोविन्द पाल और उसका लडका कालीचरन घर में बैठे थे तभी उसके घर में सीताराम की पडिया घुस आयी तो कालीचरन ने कुल्हाडी के डंडे से उसे घर के बाहर हांक दिया। तभी पडिया का मालिक सीताराम आ गया और इससे दोनों पक्षों में गाली गलौज हुई। सीताराम, उसके लडके लालदीवान व रामऔतार तथा नाती राजेन्द्र इकटठा हो गये। सीताराम की लाइसेंसी एकनाली बन्दूक रामऔतार ने छीनकर कालीचरन पर गोली दाग दी। जिससे कालीचरन की मौके पर ही मौत हो गयी। अपर सत्र न्यायाधीश एफटीसी प्रथम शैलोज चन्द्रा ने सीताराम बाबा, लालदीवान व रामऔतार सगे भाई, लालदीवान का लडका राजेन्द्र नाती को हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई। रामऔतार को 22 हजार, सीताराम को 21 हजार तथा लालदीवान व राजेन्द्र को 20-20 हजार रूपये के जुर्माने की सजा सुनाई। जिसकी आधी धनराशि पीडित को दी जायेगी। मामले की पैरवी शैलेश स्वरूप चौरसिया कर रहे थे।

Share Button

हमीरपुर में हुई एक और आनंदी फिल्म की शूटिंग

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150*प्रेम पर आधारित फिल्म में कई महिलाओं ने की थी आत्महत्या
हमीरपुर। वर्ष 2015 व 16 में प्रेम में धोखा मिलने पर 19 कलाकारों ने एक के बाद एक आत्महत्या कर ली थी। इसी पर आधारित एक और आनंदी फिल्म की सूटिंग हमीरपुर में की गई। प्रसूता आनंदी की आत्महत्या को लेकर फिल्मांकन किया गया।कलाकारों ने शहर के संगमहेश्वर मंदिर, कल्पवृक्ष व यमुना पिचिंग में शूटिंग की। इस दौरान देखने वालों का तांता लगा रहा।
फिल्म के निर्देशक व निर्माता हरिनाम ने बताया कि वह कानपुर देहात के नमीना गांव के निवासी हैं। तीस वर्ष पहले वह हीरो बनने के लिए मुम्बई गए थे। वहां पर उनको किसी ने काम नहीं दिया। उन्होंने नए कलाकारों को लेकर समाज से जुटी घटनाओं पर आधारित फिल्म बनाना शुरू कर दिया। अभी तक उन्होंने 19 फिल्में बनाई हैं। जिसमें 16 रिलीज हो चुकी हैं। इनमें मजबूरी, खूनी ड्राकुला, सैतानी बदला, सैतानी आत्मा, जेबकतरी, गुमनाम कातिल, बसंती की शादी, हनीमून गब्बर का, राम गढ़ का डाकू प्रमुख फिल्में हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2015-16 में प्रेम में धोखा खाई 19 महिला कलाकारों ने आत्महत्या कर ली थी। उसी में एक प्रसूता आनंदी थी। उसी के जीवन पर आधारित फिल्म एक और आनंदी की शूटिंग चल रही है। आधी से अधिक फिल्म मुंबई में शूट की गई है। उसका कुछ हिस्सा कानपुर देहात के नगीना गांव व आखिरी हिस्सा हमीरपुर में शूट किया जा रहा है। अक्टूबर में फिल्म रिलीज कर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि उनकी फिल्में कम बजट की होती है। एक फिल्म में करीब 15 से 20 लाख रुपये खर्च होता है। उनके साथ फिल्म हीरोइन की भूमिका में प्रतिष्ठा, दीक्षा व संजना काम कर रही हैं। अभिनेता की भूमिका में अर्स अली खान हमीरपुर के ही रहने वाले हैं। इनके साथ जतिन कुमार काम करते हैं। फिल्म में गीतकार कुमार वैरागी के साथ अन्य लोग शामिल हैं।

Share Button

कैलाश मानसरोवर यात्रा रोके जाने के विरोध में चीनी सामान बहिष्कार की मांग

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150हमीरपुर। कैलाश मानसरोवर यात्रा रोके जाने के विरोध में महेश अवस्थी कैलाश मानसरोवर मुक्ति आन्दोलन ने प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर चीनी सामान का पूर्णतः बहिष्कार किये जाने की मांग की है।
कैलाश मानसरोवर मुक्ति आन्दोलन से जुडे विजय पाण्डेय, नीलम भारती, अशोक गुरू, कौशिल्या, गिरजा, सोनी आदि ने जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को भेजे गये ज्ञापन में बताया कि कैलाश मानसरोवर यात्रा चीन के द्वारा अवरूद्ध किया गया है जो सरासर गलत है। भारतीय हिन्दू संस्कृति का अहम को ठेस पहुंचाना है। चीन द्वारा किये गये अवरूद्ध मार्ग के विरोध में भारत द्वारा चीनी सामान का विरोध अनावृत्त करना है। उन्होंने प्रधानमंत्री से चीनी सामान का पूर्णतः बहिष्कार किये जाने की मांग की है।

Share Button

इटौरा बुजुर्ग ब्राह्मण समाज के लोगों के हत्याकांड से आक्रोश

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150*ब्राह्मण एकता परिषद ने ज्ञापन देकर की कठोर कार्यवाही की मांग
राठ। जनपद रायबरेली, थाना ऊंचाहार के इटौरा बुजुर्ग गांव में ब्राह्मण समाज के पांच लोगों की हत्या मामले में अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद ने रोश व्यक्त करते हुए उपजिलाधिकारी रामभुवन तिवारी को एक ज्ञापन सौंपा। मुख्यमन्त्री को संबोधित ज्ञापन में ब्राह्मण समाज द्वारा सभी आरोपियों की गिरफ्तारी, मृतकों के परिवारों को आर्थिक सहायता एवं सुरक्षा प्रदान करने की मांग की गई।
अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद द्वारा शुक्रवार को मुख्यमन्त्री को संबोधित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी को सौंपा गया। जिसमें बताया गया कि बीते 26 जून को ग्राम इटौरा बुजुर्ग में ब्राह्मण समाज के पांच लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। इस सामूहिक हत्याकांड से समस्त ब्राह्मण समाज व्यथित एवं आक्रोशित है, साथ ही समाज में कानून व्यवस्था के प्रति अविश्वास की स्थिति उत्पन्न हो रही है। मांग की कि सभी आरोपियों की गिरफ्तारी कर उन पर रासुका के तहत कार्यवाही की जाये। मृतकों के परिजनों को अविलंब आर्थिक सहायता उपलब्ध करा उनकी सुरक्षा सुनिश्चित की जाये। इस हत्याकांड की निष्पक्ष न्यायिक जांच कराई जाये जिससे इसकी पटकथा लिखने वाले सफेदपोशों के चेहरे समाज के सामने उजागर हों तथा उनको उनके किये की सजा दिलाई जा सके। बताया कि इस हत्याकांड में स्थानीय पुलिस की भी भूमिका संदिग्ध है जिसकी जांच करा कर दोषी पुलिस कर्मियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाये। चेतवानी दी कि यदि जल्द ही इस ओर ध्यान नहीं दिया गया तो ब्राह्मण समाज के लोग अग्रिम कार्यवाही करने को मजबूर होंगे। ज्ञापन देने वालों में कार्यकारी जिला संयोजक माधव द्विवेदी, तहसील संयोजक गिरीश शरण बुधौलिया, युवा तहसील संयोजक नीरज द्विवेदी बाबा, ब्रम्ह विचार मंच के अध्यक्ष पं. राकेश मिश्रा, जगदीश नारायण अड़जरिया, हरिशंकर रावत, रोहित चौबे, जितेन्द्र रावत, भुवनेश तिवारी, जयशंकर त्रिपाठी, संजय त्रिपाठी, कामता प्रसाद बबेले, चन्द्रप्रकाश त्रिपाठी, सुनील कुमार दीक्षित, अंकित तिवारी, नीतेश मिश्रा, हरीप्रकाश तिवारी, लक्ष्मीचन्द्र त्रिपाठी, दिनेशचन्द्र शुक्ला, कैलाश तिवारी, आलोक त्रिपाठी, विनोद द्विवेदी, हरिओम तिवारी, हेमू नगायच, उपेन्द्र शर्मा आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Share Button

हल्की बारिस ने कर दिया नगर पालिका सफाई अभियान उजागर

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150ललितपुर। मौसम की हल्की बारिश में ही पालिका के तमाम दावों की पोल खुलती नजर आ रही है। दोपहर बारिश हुई तो जगह-जगह जलभराव की स्थिति निर्मित हो गई। वहीं नालियां गदंगी से बजबजाने लगी तो आसपास के लोगों का बुरा हाल था, इसके अलावा सडकों के किनारे भी पानी भर गया, जिससे राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। नगर पालिका को हर साल बारिश के पूर्व नाले और नालियों की सफाई करना होती है, लेकिन इस बार ऐसा कुछ अभियान देखने को नहीं मिला, पालिका द्वारा महज खानापूर्ति करके कर्तव्य की इतिश्री कर ली गई। दिखावे के तौर पर बारिश के पूर्व कुछक क्षेत्रों की नालियों की सफाई तो कर दी गई, लेकिन अधिकांश क्षेत्र की नालियाँ सफाई के लिये तरसती रहीं। नालियों की सफाई नहीं होने से लोगों को जिस बात का डर था आज वही हुआ। दोपहर में हल्की बारिश हुई तो जगह-जगह बारिश का पानी भर गया। जिला अस्पताल के सामने हर साल बारिश के दिनों में सडक पर जलभराव की स्थिति निर्मित होती है, बावजूद इसके इस दफा बारिश के पूर्व से ही कोई पुख्ता प्रबंध नहीं किये गये। इसका नतीजा यह हुआ कि बारिश हुई तो बारिश का पानी सडक पर भर गया। इससे वाहन चालकों के अलावा राहगीरों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। अभिलाषा पेट्रोल पम्प के पास स्थित पुलिया पर भी जलभराव हो गया, यहाँ पानी भरने से विशेषकर दोपहिया वाहन चालकों को भारी असुविधाओं का सामना करना पड़ा। आसपास के दुकान संचालकों का कहना है कि इस पुलिया की स्थिति हमेशा से ही जर्जर बनी हुई है, बारिश के दिनों में तो यहाँ हर साल जलभराव हो जाता है, लेकिन कोई भी ध्यान नहीं देता। दुकान संचालकों ने जिलाधिकारी से पुलिया का निर्माण कराने के साथ ही जलभराव की समस्या का स्थाई समाधान करने की मांग की है, ऐसा ही कुछ हाल मुहल्ला तालाबपुरा में भी देखने को मिले, तालाबपुरा में स्मृति द्वारा के पास सडक पर बड़े-बड़े गडढों में बारिश का पानी भर गया, जिसके चलते वाहनों के फर्राटा भरने से लोगों को असुविधा हुई।

Share Button

शराबी दामाद ने ससुराल में किया जमकर हंगामा

LTPF2 (1)*ससुरालियों ने 100 डायल को बुलाकर भिजवाया थाने
ललितपुर। नगर ललितपुर के मोहल्ला नेहरू नगर में विगत रात्रि एक शराबी दामाद ने अपने ससुराल आकर खूब उत्पात मचाना शुरू कर दिया। जब इस बात की भनक उक्त ससुरालियों को पड़ी तो उस शराबी दमाद को रोकने की कोशिश की तो वही नहीं मना और ससुरालीजन के दरबाजों में खूब ताले मारना शुरू कर दिया। जिससे उसका गेट टूट गया। जब पानी सर से ऊपर चला गया तो ससुरालीजनों ने तुरंत 100 डायल नंबर लगाकर पुलिस को बुला लिया। पुलिस ने उपद्रवी दामाद को अपनी हिरासत में ले लिया और घटना की पूरी जानकारी प्राप्त की। तो पता चला कि उसकी पत्नी और उसने में काफी दिनों से क ाफी विवाद चल रहा था। जिस कारण शराबी की पत्नी अपने मायके में रह रही थी। जिस कारण पत्नी वियोग में शराबी पति ने उत्पाद मचाया है। पत्नी ने यह भी आरोप लगाया है कि उसके पति की संगत काफी खराब है वह आये दिन शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता है। जिस कारण पत्नी ने उसे छोडने को लेकर अपने मायके में रह रही थी। यह चीज शराबी पति को बर्वाद नही हुई और उसने विगत रात्रि अपनी ससुराल में आकर उत्पात मचा दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के मोहल्ला लेडियापुरा निवासी भूपेन्द्र पुत्र लखन झां बताया गया है।

Share Button

बैंक अधिकारी व कर्मचारियों की तानाशाही से खाताधारक परेशान

LTPF1 (2)*समय से पहले बैंक परिसर को किया जा रहा बंद
तालबेहट। भारत से लेकर विश्वतक में सुचारू अर्थ व्यवस्था बैंकों से ही बनती है। जब तक कोई लोग बैंकों से लेन-देन नहीं करता तब तक वह सामाजिक जरूरी सामान नहीं खरीद सकता है। इसी व्यवस्था का दुरूप्रयोग बैंक में बैठे अधिकारी व कर्मचारी खाता धारकों के साथ करने में लगे हुये हैं। बैंक परिसर में यह अधिकारी अपनी एक तरह की तानाशाही चला रहे हैं। न ही बैंक समय से खुलते हैं और न ही बैंक समय पर बंद हो रहे हैं। बैंकों में अधिकारियों के ऐसे तानाशाही रवैये से खाताधारक पूरी तरह से परेशान बने हुये हैं।
गौरतलब है कि ऐसी ही अव्यवस्थाएं ललितपुर शहर की तहसील तालबेहट में देखने को मिल रहा है। तालबेहट क्षेत्र के आसपास के लोगों का कहना है कि वह तालबेहट के मोहल्ला रानीपुरा में स्थापित राष्ट्रीयकृत बैंकों के भ्रष्ट कार्यप्रणाली के रवैये से परेशान बने हुये हैं। तालबेहट तहसील में अनेक राष्ट्रीयकृत बैंकें स्थापित हैं। परन्तु कुछ बैंक ऐसे भी हैं जहां के बैंक अधिकारी व कर्मचारी खाताधारकों को वेफिजूल में परेशान करने में लगे हुये हैं। खाताधारकों का आरोप है कि जब वह बैंक परिसर में पैसा निकालने एवं बैंक से सम्बंधित अन्य कोई कार्य के लिए जाते हैं तो बैंक अधिकारी उनका काम करने में रूचि नहीं लेते हैं, जब खाताधारक इस बारे में बैंक अधिकारी से कार्य कराने के लिए आगे बात करता है तो बैंक अधिकारी खाताधारक के साथ अभद्रता का व्यवहार करके भगा देते हैं। जिससे खाताधारक को काफी परेशानी व शर्मिंदी का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे बैंक अधिकारियों के खिलाफ जिला प्रशासन शक्ति से पेश आये ताकि जिले की अर्थव्यवस्था में सुधार लाया जा सके।

एटीएम भी सप्ताहभर रहते हैं खराब
कस्बा तालबेहट के अगर एटीएम की बात करें तो यह एटीएम सप्ताह भर किसी न किसी कारणों से खराब बने रहते हैं। जिससे इमरजेंसी पर खाताधारक पैसा भी नहीं निकाल पाता है। इस असुविधा से पूरे क्षेत्र का व्यक्ति परेशान है। जब इस बारे में बैंक अधिकारियों से बात की जाती है तो केवल एटीएम सही कराने का आश्वासन ही दिया जाता है। परन्तु समस्या का सामाधान नहीं किया जाता है।

बैंक अधिकारी खूब करा रहे दलाली
तालबेहट नगर में स्थापित बैंकों के मैनेजर बैंक परिसर में कुछ ऐसे दलाल स्थापित किये हुये हैं। जो नये लोगों से सुविधा शुल्क लेकर कार्य कराते हैं। यह सुविधा शुल्क बैंक मैनेजर को दिया जाता है, उसमें से कुछ प्रतिशत दलालों को दिया जाता है। जिससे तालबेहट नगर की बैंकों में दलालों की खूब भरमार बनी हुई है।

Share Button

प्रदेश में विकास व व्यवस्था में होगा परिवर्तनःजैकी

30-06-2017 -03
प्रदेश सरकार की 100 दिवस की उपलब्धियों को बताते प्रभारी मंत्री जयकुमार जैकी।

*विकास भवन सभाकक्ष में प्रदेश सरकार की उपलब्धियां बतायी
उरई (जालौन)।
प्रदेश की जनता ने जिस मंशा से भारतीय जनता पार्टी को अपार जनसमर्थन देकर सरकार बनाने में सहयोग किया है उस विश्वास को प्रदेश सरकार कभी टूटने नहीं देंगी अब सरकार का उद्देश्य प्रदेश में बगैर भेदभाव के विकास व व्यवस्था में परिवर्तन लाना है। 100 दिन के कार्यकाल में जो उपलब्धियां हासिल की गयी है वह महत्वपूर्ण है। उक्त बात जिले के प्रभारी मंत्री जयकुमार सिंह जैकी ने मीडिया से बातचीत करते हुये कही।
विकास भवन सभागार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व में विभिन्न विभागों द्वारा 100 दिवस में अर्जित की गयी उपलब्धियों के बारे में जिला प्रभारी मंत्री/राज्यमंत्री कारागार जय कुमार सिंह जैकी ने बताया कि प्रदेश सरकार ने 1 लाख 18 हजार 280 किसानों के फसली ऋणों को माफ किया है। इसी तरह से एण्टी भूमाफिया टास्क फोर्स का गठन कर जिले में 58.548 हैक्टेयर भूमि पर अतिक्रमण के 2523 प्रकरण चिन्हित किये गये जिसमें से 944 मामलों में अतिक्रमण हटवाकर 27.637 हैक्टेयर भूमि अतिक्रमण से मुक्त करा दी गयी है। तो कृषि विभाग द्वारा पारदर्शी किसान योजना के तहत 16 हजार 424 किसानों के पंजीकरण के लक्ष्य के सापेक्ष 16 हजार 628 किसानों का ऑनलाइन पंजीकरण कराया जा चुका है। इसी प्रकार से जनपद में वरासत दर्ज कराये जाने के विशेष अभियान चलाकर 4 हजार 926 मृतक पाये गये किसानों के स्थान पर उनके वारिसानों का नाम अंकित कर कंप्यूटरीकृत खतौनी की नकल दे दी गयी है। इसी प्रकार से स्वच्छता अभियान के तहत पंचायती राज विभाग ने प्रस्तावित 81 ओडीएफ राजस्व गांवों को चिन्हित कर 2 हजार 903 शौचालय विहीन परिवारों के सापेक्ष 2 हजार 592 परिवारों को शौचालयों के निर्माण हेतु धनराशि अवमुक्त कर निर्माण कार्य प्रारंभ करा दिया गया है जिसमें 396 शौचालयों का निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया गया है। नेडा विभाग द्वारा विशेष अभिसूचना कार्यालय उरई में 4 किलोवाट का सोलर पावर प्लांट स्थापित कराया जा चुका है साथ ही ग्राम मिनौरा एवं दौलतपुर में 12 सोलर स्ट्रीट लाईट स्थापित की जा चुकी हैं परिवहन विभाग द्वारा 1799 ई-चालान कर 105.92 लाख प्रशमन शुल्क वसूला गया। जल संस्थान द्वारा 15 टैंकरों के माध्यम से पेयजल की समस्याग्रस्त बस्तियों में पेयजल आपूर्ति की गयी तथा नगरीय क्षेत्र के 1423 अस्थाई खराब हैंडपंपों की मरम्मत का कार्य कराया गया। जनपद के सभी सरकारी चिकित्सालयों में चिकित्सकों की उपस्थिति सुनिश्चित कराने की मंशा से बायोमैट्रिक मशीन स्थापित करा दी गयी है तथा चिकित्सालयों में चिकित्सकों की फोटो नाम एवं मोबाइल नंबर अंकित करा दिये गये है। विद्युत विभाग द्वारा 72 परिवर्तकों की क्षमतावृद्धि, 30 ग्राम में विद्युतीकरण, 10 हजार 619 नये संयोजन, 20 राजकीय नलकूपों का ऊर्जीकरण, 40 किमी जर्जर तार बदलवाने तथा 6 स्विचगियर बदलवाने का कार्य पूर्ण किया गया है। इसके अलावा भी अनेकों विभागों ने अपनी योजनाओं से जनसामान्य को लाभ पहुंचाये जाने का हरसंभव प्रयास किया है। इस दौरान जिलाधिकारी नरेंद्र शंकर पांडेय, पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि देवेंद्र निरंजन, भाजपा जिलाध्यक्ष उदयन पालीवाल, विधायक सदर गौरीशंकर वर्मा, कालपी नरेंद्र सिंह जादौन, माधौगढ़ मूलचंद्र निरंजन सहित अनेकों विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Share Button

युवा मतदाता पंजीकरण अभियान एक जुलाई से

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150उरई (जालौन)। जिलाधिकारी नरेंद्र शंकर पांडेय ने एक प्रेस विज्ञप्ति में अवगत कराया है कि अर्ह युवा मतदाताओं के पंजीकरण हेतु आयोग के निर्देशानुसार 1 जुलाई से 31 जुलाई 2017 तक विशेष अभियान चलाया जाना है इस विशेष अभियान के तहत 9 व 23 जुलाई की तिथियां निर्धारित है। 1 जुलाई को उप जिलाधिकारी उरई, जिला विद्यालय निरीक्षक/नोडल अधिकारी के द्वारा जिला मुख्यालय पर एक डिग्री कालेज को चिन्हित कर विशेष अभियान का शुभारंभ सुनिश्चित करेंगे। इसी प्रकार से जनपद के सभी उप जिलाधिकारी तहसील मुख्यालय पर किसी एक कालेज में विशेष अभियान कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे। इसके अलावा सभी बीएलओ अपने-अपने बूथों पर उपस्थित होकर विशेष अभियान कार्यक्रम का शुभारंभ सुनिश्चित करेंगे।

Share Button

निराश्रित महिला पेंशन पात्रता की शर्तों में नवीन संशोधन

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150उरई (जालौन)। जिला समाज कल्याण अधिकारी व प्रभारी जिला प्रोबेशन अधिकारी जीआर प्रजापति ने एक प्रेस विज्ञप्ति में अवगत कराया है कि पति की मृत्युपरांत निराश्रित महिला पेंशन योजना में प्रदेश सरकार ने पात्रता की शर्तों में नवीन संशोधन किया है जिसमें महिला की उम्र 18 वर्ष से अधिक हो, महिला के परिवार की आय दो लाख रुपये से अधिक न हो, प्रति की मृत्यु हो चुकी हो, प्रदेश की निवासिनी हो तथा आवेदिका को राज्य अथवा केंद्र सरकार की किसी अन्य योजना से पेंशन न प्राप्त हो रही हो। ऐसी निराश्रित पात्र महिलायें अपना ऑनलाइन आवेदन विभागीय साइड पर करें ताकि उसे उक्त योजना से लाभान्वित कराया जा सके।

Share Button

डा. इदरीश द्वारा बेहतर स्वास्थ्य सुविधा से मरीजों में व्यापक हर्ष

30-06-2017 -02
मरीजों को देखते चिकित्सक डा. इदरीश।

उरई (जालौन)। प्रभारी चिकित्साधिकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र डकोर डा. इदरीश मोहम्मद ने एक नया इतिहास रचते हुए ग्राम मढ़ोरा स्थित स्वास्थ्य उपकेन्द्र जाकर वहां ओपीडी की और 52 रोगियों को देखने के साथ उन्हें उपचार और औषधियां सुलभ कराईं। जिन रोगियों को बुखार आ रहा था उनकी 14 रक्त पट्टिकाएं भी बनाईं गई। ग्राम मढ़ोरा के निवासियों में उन्हें उनके दरवाजे पर मिली बेहतर स्वास्थ्य सुविधा से व्यापक हर्ष है और वह डा0 इदरीश के द्वारा मरीजों के साथ किये गये आत्मीय व्यवहार तथा प्रत्येक मरीज को दिये गये तमाम वक्त से अभीभूत पाये गये।
इस मौके पर ग्राम प्र्रधान कुण्डावाली, बीडीसी सदस्य राकेश कुमार भी उपस्थित रहे और उन्होंने ओपीडी स्वास्थ्य सेवा की सराहना की। डा. इदरीश ने स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ एएनएम सुशीला देवी को निर्देशित किया कि वह प्रतिदिन समय से उपकेन्द्र पर अपनी ड्यूटी दें।

Share Button