किसान के पसीने की कमाई खेत से ही निकली और खेत में ही मिल गयी

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150विशेष संवाददाता अवधेश निरंजन
उरई । सरकार किसान हितैषी होने का कितना ही राग अलाप ले लेकिन उसकी मंशा को उसी के कारिंदे पलीता लगा रहे हैं अपने दायित्वों से व्यवस्था कितनी दूर रहती है इसका दर्द वयां किया एक भुक्तभोगी किसान ने दर असल मुकद्दमें वाजी में उलझे एक किसान के गेहूं की फसल यूं ही पक कर खेत में झड़ गयी और अब सिर्फ डंठल अवशेष खेत में खड़े दिखाई दे रहे हैं किसान की खून पसीने की कमाई खेत से ही निकली और खेत में ही मिल गयी ।
भुक्तभोगी किसान के अनुसार उसने राहत के लिये तंत्र की हर चैखट पर फरियाद लगाई। लेकिन उसके प्रार्थना पत्र पर मजिस्ट्रेट से लेकर पुलिस तक सिर्फ टिप्पणियाँ या आदेश लिखकर अग्रसर करते रहे और फसल मिट्टी में मिल गयी।
थाना कोतवाली कोंच अन्तर्गत ग्राम तीतरा निवासी भुक्तभोगी किसान ठाकुरदास ने बताया कि उसका सीलिंग विवाद का एक मुकदमा उरई कलक्ट्रेट में चल रहा है हाईकोर्ट का आदेश था कि मामले को एक समयावधि के अन्दर निपटा दिया जाये जो अवधि निकल गयी और मामला नहीं निपटा जिसका फायदा उठाकर विपक्षियों ने मामले को और मुकदमे बाजी में उलझा दिया।
भुक्तभोगी किसान ठाकुरदास ने बताया कि समय खिचता चला गया और फसल पक कर तैयार हो गयी जिसे काटने के लिये जव वह खेत पर गया तो दवंगो ने उसे फसल नहीं काटने दी जिसकी शिकायत उसने उपजिलाधिकारी, कोतवाली, तथा सरकार द्वारा प्रायोजित समाधान दिवसों में की और फसल सुरक्षा की गुहार लगाई लेकिन कुछ नहीं हुआ फसल जानवर चर गये और रही सही मिट्टी में मिल गयी।
भुक्तभोगी किसान ठाकुरदास ने कहा कि वह कानून में आस्था रखता है तथा कानून के ही द्वारा न्याय की आस लिये भटकता रहा फल यह मिला कि उसकी मिट्टी से निकली फसल  मिट्टी में मिल गयी।

Share Button

एसबीएस आइडियल इंटर कालेज……जलवा कायम

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150उरई (जालौन)। हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा 2018 में पुनः एसबीएस आइडियल इंटर कालेज के छात्र-छात्राओं ने अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुये अपना जलवा कायम रखा तो वहीं इंटर कालेज का परीक्षाफल भी शतप्रतिशत रहा। विद्यालय के प्रधानाचार्य आरएस विश्वकर्मा ने सभी उत्तीर्ण छात्र-छात्राओं के उज्जवल भविष्य की कामना की।
इंटर कालेज के हाईस्कूल में अंकित गुप्ता 89 प्रतिशत, अमन शर्मा 88.4, अभिषेक सिंह 87.2, पुष्पराज गुप्ता 87.7, उमा राजपूत 86.8, शिवी गुप्ता 80.6, अपूर्व त्रिपाठी 86.5, आयूष 86.5, हिमांशु 84, शिवांजलि 83.7, वैष्वनी 83.2, अंकित 81, राघवेंद्र 80.8 प्रतिशत के साथ अनेकों छात्र-छात्राओं ने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। इसीक्रम में इंटरमीडिएट में लखन विश्वकर्मा 81 प्रतिशत, शिवम 80.6, नेहा सिंह 80, दीपेंद्र झां 77.4, दीक्षा 77.4, गौरव 74.8, आमरा जुबैर 74.2, हेमलता 74, महिमा सिंह 74, कृतिका शर्मा 74, उर्वशी 66.8, अर्सिया 68.8, श्रीकृष्ण 68, आकाश अग्रवाल 67, नितिक 65, अलशिफा 73, रितुल राय 65, नेहा 64, प्रतिमा, मीनाक्षी, मेहनाज आदि ने भी नकल विहीन परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन किया।

Share Button

अनेक गांवों में…….. तेज हवाओं के साथ ओलों की बरसात

30-04-2018 -05
जमीन पर बिखरे पड़े ओले।

उरई (जालौन)। देर शाम अचानक मौसम का ऐसा रुख पलटा कि देखते ही देखते तेज हवाओं के साथ धूल भरी आंधी आ गयी और जब तक लोग कुछ समझ पाते कोंच क्षेत्र सहित अनेक गांवों में बड़े-बड़े ओलों की बरसात होनी शुरू हो गयी। ओलों की बरसात के बीच में गर्मी के बेहाल बच्चों ने जमकर लुफ्त उठाया।
उल्लेखनीय हो कि पिछले कई दिनों से पड़ रही भीषण गर्मी व प्रातः से शाम तक लू के लथेड़ों से जहां आन जनमानस बुरी तरह से त्रस्त नजर आ रहा था। लेकिन सोमवार की शाम को अचानक मौसम ने पलटी मारी और आसमान में बादल छा गये इसी के साथ देर शाम तेज धूल भरी आंधी के साथ जनपद के कई क्षेत्रों में धूल भरी आंधी तेज आंधी के बीच में चना बराबर ओलों की बरसात शुरू हो गयी। मौसम सुहाना देखकर बच्चों ने तबियत से ओलों की बरसात का लुफ्त उठाया और गर्मी से निजात पायी। जिन गांवों में ओलों की बरसात हुयी है उनमें ग्राम सिमिरिया, अकोढ़ी सहित दर्जनों गांव शामिल रहे। तो तेज आंधी के चलते अनेकों पेड़ भी धरासायी हो गये हैं।

Share Button

कालपी के सरकारी अस्पताल में मरीज दो रुपये का पानी पाऊच खरीदकर पीने को विवश

30-04-2018 -03 Orai
सीएससी कालपी में लगा खराब फ्रीजर।

कालपी (जालौन)। गर्मी की विकरारता तथा लू लपट के थपेड़ों को झेल रही कालपी नगर की 50 हजार से अधिक की आवादी का स्वास्थ्य विभाग कालपी के सरकारी अस्पताल में पेयजल का संकट गहराने से मरीजों को बाहर से दो रुपये का पानी का पाऊच खरीदकर पीने को विवश है।
गौरतलब हो कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कालपी में लम्बे समय से कुम्भ कर्णी निन्द्रा में लीन प्रभारी अधीक्षक द्वारा उप्र सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के स्पष्ट आदेशों की अवहेलना की जा रही है उक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में लगभग चार दिनों से पीने का पानी नही है उक्त केन्द्र में लगा फ्रिजर सफेद हाथी बना खड़ा है। जबकि मुख्यमंत्री के कड़ें निर्देश है कि सरकारी दफ्तरों, सरकारी अस्पतालों, सार्वजनिक स्थानों में पेय जल संकट से अगर कोई जन हानि हुयी तो संबंधित अधिकारी के विरुद्ध कार्यवाही करने हेतु जिलाधिकारी को नामित किया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कालपी में लम्बे समय से तैनात चिकित्सा अधीक्षक डा. मुलायमसिंह को शायद सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आने वाले मरीजों के प्रति कोई ठोस कदम न उठाने से चार दिन से उक्त केन्द्र में लगा फ्रीजर सफेद हाथी बना हुआ खड़ा है। जिसकी शिकायत मुख्यमंत्री योगी जी से की गई है। मरीज जेपी दीक्षित ने मीडिया को बताया कि चार दिनों से सरकारी अस्पताल में पीने हेतु पानी की व्यवस्था नहीं है और नही ही उक्त केन्द्र में सरकारी दवा दी जाती है सिर्फ वाहर की दवा लिखकर डा. अपना कमीशन लेने से नहीं चूक रहें है। जिसकी भी शिकायत की जा चुकी है। सबसे आचश्र्य जनक बात यह है कि सरकार ने लाखांे रुपये खर्च करके डाक्टरों को रुकने के लिये तथा कर्मचारियों के लिये भी आवास बनवाकर उन्हे रहने की सुविधा मुहिया कराई है। इतना ही नही उक्त केन्द्र प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक का भी सुदंर आवास बना है जिससे इमरजेन्सी मरीजों को कभी कभार देखना पड़ जावे तो देखा जा सके और उसका उपचार भी किया जाना अति आवश्यक है।
लेकिन उक्त केन्द्र प्रभारी डा. मुलायम सिंह रोजना 4 बजे कानपुर के लिये रवाना हो जाते है जो प्राईवेट प्रैक्टिस करने की बात एक जिम्मेदार चिकित्सक ने दबी जुवान से स्वीकारा है। अगर किसी सक्षम अधिकारी को स्वास्थ्य व मरीज हित में गोपनीय जांच करा ली जावे। उक्त केन्द्र के प्रभारी महोदय कालपी स्थित सरकारी अस्पताल में रात्रि को ठहरते है या नही। इतना ही नही उक्त केन्द्र के बाहर बाल पेटिंग से लिखा बेसिक फोन नंबर अगर कोई मरीज लगाता है तो उसका जबाव देने के लिये शायद किसी को टाईम ही नही है जबकि सरकार के स्पष्ट निर्देश है की सरकारी विभाग के सीयूजी नंबर व सरकारी कार्यालयों के बेसिक फोन तत्काल प्रभाव से उठने चाही तथा सही जानकारी देना ही उनका कर्तव्य है। लेकिन सरकारी अस्पताल में लिखा बेसिक फोन नं0 शायद हवाहवाई ही लिखा है जबभी किसी मरीज द्वारा 05164-275056 लगाया जाता है तो उक्त नंबर कभी भी उठता नही है। जिसकी शिकायत भी संबंधित अधिकारी को प्रेषित की गई है। कालपी नगर के मरीजों तथा समाज सेवियों ने जिलाधिकारी जालौन डा. मन्नान अख्तर से मांग की है कि उक्त केन्द्र की गोपनीय जांच कमेटी बनाकर जांच करा ली जावे जिससे स्वास्थ्य हित में स्वास्थ्य सेवायें मरीजों को सही मिले तथा तत्काल प्रभाव से फ्रिज़ को सही कराया जावें जिससे सरकार की छवि बरकरार रहे।

Share Button

मई माह में शुरू हो सकते हैं माहिल तालाब के सुंदरीकरण के कार्य

30-04-2018 -01 Orai
शौचालय के टैंक से रिसती गंदगी व ऐतिहासिक माहिल तालाब में पसरी गंदगी।

*नगर पालिकाध्यक्ष अनिल बहुगुणा ने बनाई ठोस कार्ययोजना
उरई (जालौन)। नगर के ऐतिहासिक माहिल तालाब के सौंदर्यीकरण की अनेकों योजनायें बनायी गयी और कार्य कराये लेकिन करोड़ों रुपये खर्च होने के बाद भी वह उस स्तर तक पहुंच पाया जितनी की नगरवासियों को उम्म्मीद थी। हालांकि अब माहिल तालाब के सौंदर्यीकरण के ठोस कार्ययोजना नगर पालिकाध्यक्ष अनिल बहुगुणा ने बनाते हुये उस पर अमल शुरू किया है उम्मीद है कि मई माह में तालाब के सुंदरीकरण के कार्य प्रारंभ हो जायेंगे।
देखा जाये तो नगर का ऐतिहासिक माहिल अनेकों धार्मिक रीति रिवाजों से जुड़ा हुआ हैं। लेकिन जब से उसका सौंदर्यीकरण की शुरूआत हुयी और करोड़ों रुपये खर्च भी किये गये इतना ही नहीं पर्यटन विभाग द्वारा कार्य कराये गये लेकिन वह आज तक पूरा नहीं हो पाये। माहिल तालाब की ऐतिहासिकता को देखते हुये पालिकाध्यक्ष अनिल बहुगुणा ने ठोस कार्ययोजना बनाकर उस पर अमल कराने की तैयारी शुरू हो गयी है। यदि सब कुछ ठीक ठाक रहा तो मई माह में माहिल तालाब पर विकास कार्यों की शुरूआत हो जायेगी। जब इस संबंध में पालिकाध्यक्ष अनिल बहुगुणा से दूरभाष पर जानकारी चाही तो उन्होंने स्पष्ट किया कि अब नगर के ऐतिहासिक माहिल तालाब पर अनवरत विकास कार्य होते रहेंगे जिसमें तालाब की सफाई के साथ ही चारों ओर से परिक्रमा मार्ग पूरा कराने व नये पुल का निर्माण कराना भी शामिल हैं। उन्होंने बातचीत के दौरान बताया कि पिछले दिनों जनपद में आये मुख्यमंत्री को सौंपे गये ज्ञापन में भी माहिल तालाब के विकास के लिये प्रदेश सरकार से धन आवंटित करने की मांग की गयी थी। उम्मीद है कि प्रदेश सरकार तालाब के सौंदर्यीकरण के लिये आर्थिक सहयोग की शुरूआत जल्द करेगी।
सीवर लाइन से जोड़ा जाये शौचालय के हौज का पाईप
उरई। ऐतिहासिक माहिल तालाब के सौंदर्यीकरण में सबसे बड़ी बाधा मुख्य राजमार्ग पर पूर्व के समय में शौचालय का निर्माण कराया था लेकिन उसका हौज सीवर लाइन से न जोड़कर घाट की सीढ़ियों पर ही बना दिया गया था जिससे हौज का रिसाब तालाब में होता रहता है जिससे पानी भर जाने के बाद तालाब में भरा पानी भीषण दुर्गन्ध देने लगता है। जिससे जो लोग प्रातः मार्निंग बाक के लिये तालाब परिसर में आते हैं उन्हें भारी दिक्कतों का सामना करने को विवश होना पड़ता हैं। नगरवासियों का मानना है कि तालाब के सौंदर्यीकरण में इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि शौचालय निर्माण के दौरान बना हौज बंद कराकर उसको सीधे सीवर लाइन से जोड़ा जाये ताकि तालाब के पानी में गंदगी न फैले।

Share Button

टल गया………बड़ा हादसा

Madhogadh 6Madhogadh 7माधौगढ़ से मनोज कुमार शिवहरे पत्रकार
*ट्रक व हार्वेस्टर के बीच फसी यात्री बस
माधौगढ़, जालौन । बस चालक की लापरवाही से तीन बड़े वाहन की आपसी भिड़ंत में बड़ा हादसा होते होते टल गया।
कोतवाली माधौगढ़ अंतर्गत हरोली रोड पर लक्ष्मणपुरा मोड़ पर आज शाम 5ः00 बजे उस समय एक बड़ा हादसा होते होते बचा जब अनाज के बोरों से भरा ट्रक बैक हो रहा था उसी समय सड़क से एक हार्वेस्टर ट्रक के पीछे से निकलने लगा और इन दोनों वाहनों की गति इतनी सामान्य थी कि अपने अपने मकसद में कामयाब होकर के यह निकल भी जाते लेकिन उसी समय हरोली से भिंड जाने वाली एक यात्री बस नंबर न्च् 80 उ 9937 तेज गति से दोनों वाहनों के बीच से गुजरने का प्रयास करने लगी लेकिन जगह एवं समय का अभाव होने से यह बस दोनों वाहनों के बीच फसकर क्षतिग्रस्त हो गई। इस हादसे के बाद आसपास के लोग मौके पर पहुंचे तो ड्राइवर को बस से निकाला ड्राइवर शराब के नशे में चूर था । ड्राइवर के घायल हो जाने के कारण मौके पर उसकी मारपीट तो नहीं हुई लेकिन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बस एवं बस चालक को हिरासत में ले लिया।

Share Button

उत्पाती शराबी……शांति भंग में चालान

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150जालौन से अनुराग श्रीवास्तव पत्रकार
जालौन। शराब पीकर उत्पात मचा रहे शराबी को ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने पकड़ कर शांति भंग में चालान किया।
ग्राम दहगवां निवासी श्यामलाल पुत्र तुलसीदास गांव में शराब पीकर उत्पात मचा रहे थे इसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी पुलिस ने शराबी को पकड़ कर शांति भंग में चालान किया।।।।

Share Button

आपस में लड़ गये शराबी रिश्तेदार……..शांति भंग में चालान

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150जालौन से अनुराग श्रीवास्तव पत्रकार
जालौन। रिश्तेदारी में शादी समारोह में सम्मिलित होने आए दो रिश्तेदार आपस में शराब पीकर झगड़े सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों रिश्तेदारों को पकड़कर शांति भंग में चालान किया।
सिमसा पुर पुखराया निवासी रविंद्र उर्फ टिंकू यादव पुत्र रामप्रकाश व सुनील यादव पुत्र विजय यादव स्वरूप नगर सट्टी कानपुर देहात एक शादी समारोह में शामिल होने स्थानीय समानी गार्डन में रविवार की रात्रि को आए थे उसी दौरान दोनों रिश्तेदारों ने शराब पीकर हो हल्ला मचाना शुरू कर दिया इसी दौरान दोनों शराबी रिश्तेदार आपस में गाली गलौज करने लगे तथा आपस में मारपीट भी करना शुरू कर दिया है इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को पकड़कर शांति भंग में चालान किया।

Share Button

मित्रता से बड़ा संबंध ना तो कोई है और ना ही होगा- राधा बल्लभ नागार्च

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150जालौन से अनुराग श्रीवास्तव पत्रकार
जालौन 30 अप्रैल। श्री वीर बाला जी मन्दिर के स्थापना दिवस पर आयोजित श्रीमद्भागवत कथा के सातवें दिन कथा राधा बल्लभ नागार्च सुदामा चरित्र का वर्णन किया। इसमें उन्होंने कृष्ण और सुदामा की मित्रता के बारे में गहनता से बताया। कथा वाचक ने बताया कि आज मित्रता मात्र स्वार्थ पर आकर टिक गई है, लेकिन मित्रता का संबंध एक ऐसा संबंध है, जिससे बड़ा संबंध ना तो कोई है और ना ही होगा। मित्रता अपने आप में एक परिपूर्ण रिश्ता है, जैसी किसी भी वस्तु के लिए कोई भी स्थान नही होता है। भागवत में कृष्ण और सुदामा चरित्र का वर्णन करते हुए स्वयं कृष्ण ने इस संसार को सच्ची मित्रता का पाठ पढ़ाया है। कृष्ण के राजा होने के बाद भी वर्षो बाद सुदामा को पहचानना और उन्हें अपने समान आदर दिलवाना और प्रेम में चावल खा दो लोकों का राजपाठ देना सच्ची मित्रता को इंगित करता है। कथा के दौरान पारीक्षित कमलेश पुजारी तथा पत्नी पुष्पा देवी, मनोज कुमार, अंजनी श्रीवास्तव, गंगाराम गुप्ता, सुरेश कुमार, हनुन्त शुक्ला, अनूप कुमार, मुकेश, सागर आदि भक्त कथा पाण्डाल में मौजूद थे।

Share Button

सुबह छह बजे से डेढ़ घंटे तक निशुल्क योग शिक्षा

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150जालौन से अनुराग श्रीवास्तव पत्रकार
जालौन 30 अप्रैल। मनोहरलाल लक्ष्मीनारायण राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में लगातार सुबह योग शिविर का आयोजन किया जा रहा है जिसमें योग गुरु लोगों को योग की बारीकियों सिखा रहे हैं।
योग गुरु वाचस्पति मिश्रा प्रतिदिन सुबह छह बजे से डेढ़ घंटे तक योग शिक्षा निशुल्क दी जा रही है। योग के माध्यम से निरोगी रहने के तरीके सिखाएं जा रहे हैं। योग के माध्यम से मानसिक व शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने की जानकारी दी तथा कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को कम से कम एक घंटे व्यायाम जरूर करना चाहिए है। इस योग शिविर में भगवती प्रसाद मिश्रा, राजेन्द्र पुरवार, श्रवण कुमार श्रीवास्तव, अजय बाथम, कुलदीप वाजपेयी, अखिलेश गुप्ता, रमेश ताम्रकार, त्रिलोकीनाथ गुप्ता आदि लोग लगातार योगाभ्यास कर रहे हैं।

Share Button

छात्राओं से हो रही अतिरिक्त शुल्क के नाम पर धन उगाही

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150जालौन से अनुराग श्रीवास्तव पत्रकार
*अभिभावकों ने उपजिलाधिकारी से की शिकायत
जालौन 30 अप्रैल। जालौन बालिका इंटर कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओं से हो रही अतिरिक्त शुल्क के नाम पर धन उगाई की शिकायत अभिभावकों ने उपजिलाधिकारी से की है तथा अतिरिक्त शुल्क पर रोक लगाने व शुल्क वसूली के आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। अभिभावकों की शिकायत पर उपजिलाधिकारी ने बी ई ओ को जांच करने के निर्देश दिए हैं।
नगर में संचालित जालौन बालिका इंटर कॉलेज में छात्राओं को कक्षा 6 से 12 तक की शिक्षा दी जाती है। सरकारी द्वारा सहायता प्राप्त विद्यालय में पढ़ने वाली छात्राओं से शिक्षक के नाम पर हर माह अतिरिक्त शुल्क लिया जा रहा है। अतिरिक्त शुल्क के रूप लाखों रुपए एकत्रित होने के बाद भी शिक्षकों का टोटा होने से अभिभावकों में नाराजगी है। अभिभावक दलालनपुरा निवासी विजय दोहरे तथा धर्मशाला निवासी अशोक श्रीवास्तव ने एक शिकायती पत्र उपजिलाधिकारी को दिया है तथा उसकी प्रतिलिपि जिलाधिकारी, निदेशक तथा शिक्षा मंत्री को भेजी है जिसमें कहा गया है कि विद्यालय में 1300 से ज्यादा छात्राएं विद्या अध्ययन कर रही है। सरकारी सहायता प्राप्त होने तथा बालिकाओं की शिक्षा मुफ्त होने के बाद भी विद्यालय प्रशासन जूनियर कक्षा की छात्राओं से 280 रुपए, हाईस्कूल की छात्राओं से 800 तथा इंटरमीडिएट की छात्राओं से 1060 प्रति छमाही ली जा रही है। छमाही लिए जा रहे शुल्क की छात्राओं को रसीद भी नहीं दी जाती है तथा विद्यायल में इसका लेखाजोखा भी उपलब्ध नहीं है। विद्यालय प्रशासन द्वारा वसूले जा रहे लाखों का विद्यालय के पास कोई रिकार्ड उपलब्ध नहीं है। अभिभावकों द्वारा लगाए गए विद्यालय प्रशासन पर गम्भीर आरोपों तथा छात्राओं द्वारा अतिरिक्त शुल्क न पर परेशान किए जाने के मामले को गम्भीरता से लेते हुए उपजिलाधिकारी ने मामले की जांच बी ई ओ को दिए हैं। वह विद्यालय में अतिरिक्त शुल्क के नाम पर हो रही वसूली की जांच करेगें। उपजिलाधिकारी भैरपाल सिंह ने बताया कि बी ई ओ की रिपोर्ट मिलने के बाद कार्रवाई के लिए जिलाधिकारी को जांच रिपोर्ट भेजी जायेगी।

Share Button

विद्यालयों के बाहर गांव के दबंगों का कचरा…..बच्चों को परेशानी

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150जालौन से अनुराग श्रीवास्तव पत्रकार
जालौन 30 अप्रैल। तहसील क्षेत्र के ग्राम शेखपुर बुजुर्ग में संचालित तीन विद्यालयों के बाहर गांव के कुछ दवंगों द्वारा कचरा फेंक देने तथा विद्यायल परिसर के पास गंदगी फैला देने से बच्चों को हो रही परेशानी की शिकायत ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी से की है। ग्रामीणों की शिकायत पर उपजिलाधिकारी ने बी डी ओ को जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी भैरपाल सिंह से लिखित शिकायत की कि गांव में संचालित तीन बेसिक शिक्षा विभाग के विद्यालय संचालित हो रहे हैं। विद्यालयों की जमीन पर गांव के कुछ दवंगों ने कूड़ा घर बना लिया है तथा विद्यायल के बाहर कूड़ा डालने लगे हैं। विद्यालय के बाहर कूड़ा डालने के कारण अध्यापक व बच्चे सभी परेशान हैं। ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी को बताया कि उन्होंने कूड़ा के ढेर हटवाने के लिए ग्राम प्रधान से भी कई बार कहा किन्तु वह भी नहीं हटवाना चाह रहे हैं। गर्मी के मौसम में विद्यालय के पास फैली गन्दगी बीमारी का कारण बन सकती है। ग्रामीण राम स्वरूप, रजनीकांत, राम सिंह, भोले, कल्लू, किशन आदि ने उपजिलाधिकारी से मांग की है कि विद्यालय के पास लगे विद्यालय की भूमि के कूड़े के ढेर को हटवाया जाए। ग्रामीणों की शिकायत पर उपजिलाधिकारी ने नियमानुसार कार्रवाई करने के निर्देश बी डी ओ को दिए हैं।

Share Button

प्रचण्ड गर्मी चरम पर……पेयजल के लिये भटकता राहगीर

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150जालौन से अनुराग श्रीवास्तव पत्रकार
*न सरकारी और न गैर सरकारी कहीं नहीं है शीतल जल की व्यवस्था
जालौन 30 अप्रैल। बैशाख का महीना समाप्त हो गया है तथा गर्मी के मौसम का प्रमुख माह ज्येष्ठ शुरू हो गया है। ज्येष्ठ माह के प्रारंभ होने से पूर्व ही गर्मी प्रंचड रूप धारण कर चुकी है। जिसके कारण पेयजल की मांग बढ़ गई है। बाजार में सार्वजनिक प्याऊ तथा टंकी न होने के कारण लोगों को मानक विहीन पोलिथिन में बिक रहे पानी का प्रयोग करना पड़ रहा है। इसके बाद किसी संस्था, समाजसेवी तथा नगर पालिका परिषद ने राहगीर तथा बाजार में आने वाले ग्राहकों के लिए शीतल जल की व्यवस्था नहीं की है।
नगर में आने वाले लोगों को गर्मी के मौसम में शीतल पेय जल उपलब्ध कराने के लिए सब्जी मंडी पर सार्वजनिक पानी की टंकी बनी हुई है किन्तु कई वर्षों पूर्व खराब हुई टंकी का पुनर्निर्माण तो हो गया किन्तु उसमें आज तक पाइपलाइन से कनैक्शन नहीं दिया गया है जिसके कारण वह सफेद हाथी बनी खड़ी है। नगर से निकलने वाले राहगीरों के लिए देवनगर चैराहे पर टंकी बनी थी जिसके अवशेष तक समाप्त हो गए हैं। बस स्टैंड पर बनी सार्वजनिक टंकी होटल मालिक की पर्सनल प्रोपर्टी बन कर रह गयी है। नगर के किसी चैराहे या सार्वजनिक स्थलों पर शुद्ध शीतला पेयजल की व्यवस्था नहीं है जिसके कारण गर्मी के मौसम में राहगीर तथा बाजार आने ग्राहक, दुकानदार तथा राहगीर पानी के लिए परेशान हो रहे हैं।
बाजार तथा चैराहे पर पेयजल की व्यवस्था न होने के कारण मजबूरी में लोगों को घटिया पन्नी के पाउचों में बिक रहा पानी खरीदकर पीना पड़ रहा है। प्रचंड गर्मी का महीना शुरू हो चुका है। इसके बाद आज तक किसी समाजसेवी, जन प्रतिनिधियों या नगर पालिका प्रशासन ने सार्वजनिक प्याऊ की व्यवस्था नहीं कराई है। बाजार व मुख्य चैराहों पर सार्वजनिक स्थलों पर प्याऊ न खुलने तथा चैराहों पर लगे हैंडपंपों पर आसपास के होटल संचालकों का कब्जा होने के कारण लोग परेशान हैं। नगरवासी रूपेश लाक्षाकार, सुबोध प्रजापति, पवन याज्ञिक, मनीष परिहार, क्क्कू, अमित माली ने जिलाधिकारी से मांग की है कि गर्मी के मौसम को देखते हुए बाजार में मुख्य स्थानों तथा नगर के प्रमुख चैराहों पर सार्वजनिक प्याऊ लगवाए जाए तथा अतिक्रमण की चपेट में आयी सार्वजनिक पानी की टंकियों को अतिक्रमण मुक्त कराकर उनमें पानी की सप्लाई सुनिश्चित करायी जाय जिससे गर्मी में लोग को पेयजल उपलब्ध हो सके।

वाटर कूलर महीनों से खराब
नगर के प्रमुख कार्यालय तहसील परिसर में तहसीलदार कार्यालय, उपजिलाधिकारी कार्यालय, उपकोषागार तथा कर्मचारी कल्याण निगम की कैंटीन संचालित हो रही है जिसके कारण यहां पर लोगों की भीड़ लगी रहती है। सरकारी कर्मचारी, अधिवक्ता, वादकारी, किसान आदि लोगों का दिन भर मजमा लगा रहता है। इसके बाद भी तहसील परिसर में लगा वाटर कूलर महीनों से खराब पड़ा है। इसके बाद भी इसे ठीक नहीं कराया गया है तथा न ही कार्यालय परिसर में प्याऊ खोली गई है जिसके कारण लोग पानी के लिए परेशान हैं।

Share Button

अब फ्री इलाज पाँच लाख तक…..सबका नहीं जो पात्र हैं

Madhogadh 4Madhogadh 5माधौगढ़ से मनोज कुमार शिवहरे पत्रकार
माधौगढ़। आज माधौगढ़ ब्लाक क्षेत्र के ग्राम गोहन में प्रधान मन्त्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन योजना के तहत माधौगढ़ बी.डी.ओ. द्वारा एक ग्राम सभा में खुली मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमे सभी ग्रामीणों को बताया गया की यह प्रधान मन्त्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिसन योजना के अंतर्गत जो भी नागरिक इस योजना के जुड़े हुए हैं उन नागरिकों का भारत सरकार द्वारा फ्री में इलाज किया जयेगा यह योजना 2011 सरकार द्वारा चालू की गयी थी उस समय पीड़ित नागरिक तीस हजार तक का फ्री इलाज करा सकता था लेकिन बर्तमान सरकार ने इसकी धन राशि बढाकर पाँच लाख कर दी है जिससे कोई भी गरीब अपना किसी भी गम्भीर बीमारी का इलाज करा सके और बी.डी.ओ साहब ने सभी ग्रामीणों को इस बात से भी अबगत कराया की जो भी नागरिक इस योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं और जो किसी कारणबस छूट गये हैं उन्हें जल्द से जल्द जोड़ा जायेगा और इस कार्य को पूरा करने का निर्देश ग्राम सचिव को दिया गया है और सभा में ग्राम प्रधान सुरेन्द्र सिंह राजपूत, ग्राम शहबाजपुर प्रधान परमात्मा शरण भाजपा युबा नेता गजेन्द्र सिंह, ग्राम सभा सदस्य बिजय सिंह, बिपिन कुमार, संजू राजपूत, पतलेश राजपूत, कप्तान सिंह, लल्ला महेश्वरी आदि नागरिको की उपस्थिति में सम्पन्न हुई

Share Button

वाह री पुलिस, शाबाश दमकल!

Mono-Krishna-News-Orai-3-150x150कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। दो दिन पूर्व एक दंपत्ति द्वारा अपने खेत में लगाई गई आग की चिंगारी से पड़ोसी खेत बाले की दो ट्रॉली अरहर की फसल जल गई थी जिसकी सूचना पर न तो पुलिस ही आज तक मौके का जायजा लेने पहुंची है और न ही दमकल को सूचना मिलने के बाद भी फुर्सत मिली वहां जाने की। हालात यह हैं कि अरहर में लगी आग आज भी अंदर ही अंदर सुलग रही है। इन दोनों विभागों की इतनी जबर्दस्त कार्यशैली यह बताने के लिये काफी है कि जन समस्याओं को लेकर ये विभाग कितने संवेदनशील हैं।
गौरतलब है कि 28 अप्रैल को कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रामपुर सनेता में राजेन्द्रसिंह निरंजन के खेत में मड़ाई के लिये दो ट्रॉली अरहर इकट्ठा करके रखी गई थी। पड़ोस के खेत बाले नरेन्द्र पुत्र श्यामलाल तथा उसकी पत्नी ने अपने खेतों में अवशेषों को जलाने के लिये आग लगा दी और अपने घर चले गये। आग की चिंगारी उड़ी और राजेन्द्रसिंह की अरहर में जा गिरी जिससे पूरी अरहर जल कर खाक हो गई। राजेन्द्र ने कोतवाली में पूरे मामले की शिकायत की, इसके साथ ही अग्निशमन विभाग को भी सूचना दी लेकिन दोनों में से एक भी विभाग आज दो दिन बीत जाने के बाद भी मौके पर यह देखने नहीं पहुंचे कि घटना क्या है। राजेन्द्र के मुताबिक अरहर में लगी आग अंदर ही अंदर अभी भी धुंधक रही है।

Share Button

खेत में चर रहीं बकरियां ले गया खेत मालिक

konch5
बकरियां गायब होने की शिकायत करने कोतवाली आया दुर्गादीन

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। अपने खेत में चर रहीं तकरीबन पैंतीस बकरियों को खेत मालिक ने हांक कर बंधक बना लिया है। ये आरोप लगाया है बकरियों के मालिकों ने जिसमें यह भी स्वीकारा गया है कि उनकी बकरियां दूसरे के खेत में चर रही थीं। ग्राम बस्ती निवासी दुर्गादीन ने कोतवाली में प्रार्थना पत्र देकर बताया है कि उसकी तथा लखू, महेश, अंकित, जितेन्द्र आदि की तकरीबन पैंतीस बकरियां खेतों में चर रहीं थीं। इन बकरियों को दुर्गादीन का भतीजा रामकुमार चरा रहा था। उसे प्यास लगी तो वह बकरियों को अपने खेत पर ले गया और उन्हें चरता छोड़ पानी पीने घर आ गया। लौट कर जब वह खेत पर पहुंचा तो बकरियां नदारत थीं। दुर्गादीन का कहना है कि जब वह ढूंढते हुये धनौरा पहुंचा तो जानकारी मिली कि वहां एक व्यक्ति बकरियों को बंधक बनाये है और कह रहा है कि बकरियां उसके खेत में चर रहीं थीं लिहाजा दस हजार रुपया दो तभी बकरियां छोड़ेंगे।

Share Button