स्वयंसेवकों ने कॉलेज और सीएचसी परिसर किए साफ

-सीएचसी परिसर में सफाई करते एनएसएस के स्वयंसेवक

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। मथुराप्रसाद महाविद्यालय में सोमवार को एनएसएस का प्रथम एक दिवसीय सामान्य शिविर आयोजित किया गया जिसमें शिविरार्थियों ने कॉलेज कैंपस के साथ साथ सामने स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र परिसर में जाकर वहां झाड़ झंखाड़ों की सफाई कर स्वच्छता का संदेश दिया।
प्राचार्य डॉ. टीआर निरंजन के निर्देशन में कार्यक्रम अधिकारी डॉ. मनोज तिवारी की देखरेख में संपन्न हुए इस प्रथम एक दिवसीय सामान्य शिविर में बतौर मुख्य अतिथि आरएसएस के जिले के पदाधिकारी ओमनारायण मिश्रा ने शिविरार्थियों को कई प्रेरणास्पद प्रसंग सुनाते हुए सेवा की भावना का महत्व समझाया। उन्होंने कहा कि छात्र जीवन में ही सेवा का संकल्प लेकर विद्यार्थियों को आगे बढना चाहिए ताकि आगे चल कर देश सेवा के प्रति उनका रुझान बन सके। उन्होंने समाज के उपेक्षित और साधन विहीन लोगों के बच्चों को शिक्षित करने के लिए छात्रों को नि:शुल्क कोचिंग सेंटर्स खोलने की सलाह भी दी। इसके साथ साथ समाज में व्याप्त भेदभाव को मिटाने और समाज को जागरूक करने पर भी उन्होंने जोर दिया। इस दौरान तृप्ति गुप्ता, अमन, अनुष्का, नीहारिका, विशाल, भानुप्रताप, खुशबू, अंशिका, अंकुर, चेतन, संकेत, ऋषभप्रताप सिंह, गौरी पटेल, दीक्षा दुवे, पार्वती आदि मौजूद रहे।

Share Button

पुलिस की त्वरित कार्रवाई, निर्माण रुकवा कर बबाल टाला

रात में मौके पर पहुंची पुलिस
मेन रोड के किनारे पड़ी निर्माण सामग्री

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
* जगह के स्वामित्व को लेकर दो पक्षों में हुआ विवाद, जांच तहसीलदार के पास
कोंच। रविवार की रात मुख्य राजमार्ग पर सहकारी क्रय विक्रय समिति के सामने रात में बड़ा बबाल होते होते टल गया। कुछ लोग वहां निर्माण कार्य करा रहे थे जिसकी सूचना पुलिस के पास पहुंची और लगभग आधी रात में कोतवाली प्रभारी शैलेन्द्र सिंह दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और निर्माण कार्य रुकवा कर हिदायत दी कि स्वामित्व को लेकर अपने अपने कागजात एसडीएम को दिखाएं और साबित करें कि जगह किसकी है। इससे पहले किसी भी प्रकार का निर्माण कतई न किया जाए।
दरअसल, बड़ा मील से सट कर मेन रोड की तरफ एक भूखंड है जिसमें एक कोठरी बनी हुई थी। हालांकि यह साबित नहीं है कि उक्त भूखंड का असल स्वामी कौन है लेकिन उस पर दो पक्ष अपना अपना दावा कर रहे हैं। रविवार की रात में एक पक्ष के लगभग दो दर्जन लोग वहां पहुंचे और बाउंड्री आदि का निर्माण युद्घ स्तर पर कराना शुरू कर दिया जिस पर दूसरे पक्ष ने जगह अपनी बताते हुए ऐतराज जताया। इस बीच माहौल काफी गरम हो गया और स्थिति बिगड़ पाती इससे पूर्व ही किसी ने कोतवाली पुलिस को फोन कर दिया। सूचना पर कोतवाल शैलेन्द्र सिंह दलबल के साथ मौके पर पहुंच गए और तत्काल काम रोकने की हिदायत दी। उन्होंने दोनों पक्षों को जगह के स्वामित्व से जुड़े अपने अपने कागजात लेकर एसडीएम से मिलने के लिए कहा और चेतावनी दी कि जब तक स्वामित्व का मसला हल न हो जाए तब तक किसी भी प्रकार का निर्माण करने से बाज आएं। उन्होंने साफतौर पर जता दिया कि कानून और व्यवस्था की स्थिति से किसी भी प्रकार का खिलवाड़ कतई न करें। गौरतलब है कि उस जमीन पर बड़ा मील के मालिक सुरेशचंद्र गुप्ता अपनी होने का दावा कर रहे हैं तो दूसरी तरफ मंगलसिंह पुत्र कालीचरण वर्मा निवासी प्रतापनगर, वाहिद पुत्र अताउल्लाखां निवासी आजाद नगर सहित कई लोगों का दावा है कि उन्होंने उस जमीन का बैनामा राजेन्द्रप्रसाद तिवारी पुत्र किसुनप्रसाद निवासी पटेललगर से इसी महीने कराया है। बहरहाल, मामला एसडीएम के पास पहुंच गया है और उन्होंने तहसीलदार राजेश विश्वकर्मा को मामले की गहराई से जांच करने के निर्देश दिए हैं।

Share Button

गांजा बेचते एक को दबोचा पुलिस ने

पुलिस हिरासत में एनडीपीएस का आरोपी इसरार

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। कोतवाली पुलिस ने सोमवार को एक व्यक्ति को खुलेआम गांजा बेचते हुए पकड़ लिया, उसके पास से लगभग आधा किलोग्राम गांजा बरामद किया गया है। बताया गया है कि पकड़ा गया आरोपी काफी समय से इलाके में गांजा की बिक्री कर रहा था और पुलिस के लिए चुनौती बना था। उसे एनडीपीएस की धाराओं में जेल भेज दिया गया है।
सोमवार की सुबह कोतवाली प्रभारी शैलेन्द्र सिंह को मुखबिर से सूचना मिली कि खेरा तिराहे पर एक व्यक्ति गांजे की बिक्री कर रहा है। सूचना पर फौरी संज्ञान लेते हुए उन्होंने सुरही चौकी इंचार्ज संजीव कुमार तथा दरोगा धर्मेन्द्रकुमार, सिपाही अवनीश, राहुल, लोचन आदि की टीम बना कर मौके पर दबिश देने के लिए भेजा। मुखबिर की सूचना बिल्कुल सटीक थी, पुलिस टीम ने एक व्यक्ति को धर दबोचा जिसके पास से लगभग 500 ग्राम गांजा बरामद हुआ। पकड़े गए व्यक्ति का नाम इकरार पुत्र इकलाख निवासी आराजी लेन बताया गया है। पुलिस ने उसे एनडीपीएस की धाराओं में जेल भेज दिया है। बताया गया है पकड़ा गया व्यक्ति काफी समय से इस तरह के गैरकानूनी कामों में लिप्त था और पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था।

Share Button

आग ही आग है गीत मेरे जल जाएंगे, भीड़ में गीत मेरे कुचल जाएंगे’

-कवियों को सम्मानित करते आयोजक
कवियों को सम्मानित करते आयोजक

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
* पंकज स्मृति सम्मान समारोह में सम्मानित किए गए नामचीन कवि
कोंच। यहां मुरली मनोहर मंदिर में आयोजित पंकज स्मृति सम्मान समारोह के अवसर पर कवि सम्मेलन का भी आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता रवीन्द्र रंजन शिकोहाबाद ने की और संचालन राघवेन्द्र कौशल चिंगारी ने किया। इस अवसर पर बाहर से आए कवियों और साहित्यकारों ने अपनी अनूदित रचनाओं से श्रोताओं को आधी रात तक बांधे रखा।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे गीतकार रवीन्द्र रंजन शिकोहाबाद ने अपनी रचना, ‘आग ही आग है गीत जल जाएंगे, भीड़ में गीत मेरे कुचल जाएंगे’ से वर्तमान की बिभीषिका का चित्रण करने का प्रयास किया। अभिनंदित साहित्यकार यज्ञदत्त त्रिपाठी ने पाकिस्तान को रेखांकित करते हुए कहा, ‘दुनिया के नक्शे के ऊपर बोलो पाकिस्तान कहां है, निर्दोषों के हत्यारों के रहने का स्थान जहां है।’ प्रिया श्रीवास्तव उरई की रचना ‘बढेगा और दिन दिन प्यार ऐ दिलदार अभी क्या है,हुईं हैं सिर्फ आंखें चार ऐ दिलदार अभी क्या है।’ उरई की ही एक और कवियित्री मंजू तिवारी ने कहा, ‘प्यार की है पहेली जटिल मेरे मन, इसका हल न अभी तक किसी ने किया।’ इसके अलावा वीरेन्द्र तिवारी, दिनेश गुरुदेव, राजेशचंद्र गोस्वामी, डॉ. हरिमोहन गुप्त, नरेन्द्रमोहन मित्र, कृपाशंकर द्विवेदी बच्चू महाराज, मुन्नालाल लोहे वाले, ओंकारनाथ पाठक, दिनेश मानव, कालीचरन सोनी, प्रमोद कस्तवार, संतोष तिवारी सरल, डॉ. एलआर श्रीवास्तव, अभिनव त्रिपाठी, नंदराम भावुक, करीमखां, राहुल कश्यप, संजीव सरस, संजय सिंघाल, आनंद शर्मा अखिल, प्रेम नारायण अग्रवाल नदीम, अरुण वाजपेयी दर्शन, उमेश चंद्र स्वर्णकार आदि ने बेजोड रचनाएं सुना कर श्रोता समुदाय को आनंदित किया। आभार रचनाकार भास्कर सिंह माणिक्य ने जताते हुए अपने पिता कीर्तिशेष अभिनंदित साहित्यकार रामरूप स्वर्णकार पंकज की रचनाओं का काव्य पाठ किया। उमेशचंद्र स्वर्णकार, मधुदन सिंह स्वर्णकार, आचार्य दिलीप स्वर्णकार, उदय सोनी, अरविंद सोनी और मंजुल मयंक ने आए हुए कवियों का शॉल ओढा कर श्रीफल एवं प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मान किया। अनिल कपूर एडवोकेट, राजेश खन्ना झांसी, राकेश कुमार सोनी मुन्ना, चतुर्भुज चंदेरिया, रामकुमार खरे एडवोकेट, डॉ. पुरुषोत्तम चंदेरिया, डॉ. दिनेश उदैनिया, डॉ. प्रदीप गर्ग, अनिल झा आदि मौजूद रहे।

Share Button

शराब सहित धरा गया एक


कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। कोतवाली पुलिस ने एक व्यक्ति को अबैध शराब सहित गिरफ्तार किया है। एसआई धर्मेन्द्र कुमार हमराही सिपाही अजयसिंह के साथ गश्त पर थे तभी पहाडग़ांव चुंगी के पास एक संदिग्ध व्यक्ति को उन्होंने पूछताछ के लिए रोका और जब उसकी तलाशी ली गई तो उसके पास से पांच लिटर कच्ची शराब बरामद हुई। पकड़े गए व्यक्ति का नाम थानसिंह पुत्र हरीचरण निवासी महंतनगर कोंच का आबकारी एक्ट के तहत चालान किया गया है।

Share Button

शिविर लगा कर जीएसटी पंजीयन किए गए

कैंप लगा कर पंजीकरण करते वाणिज्य कर के अधिकारी

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार को नगर में शिविर लगा कर व्यापारियों के जीएसटी पंजीयन किए। अधिकारियों ने कहा कि व्यापारी बैध रूप से पंजीकरण करा कर ही व्यापार कार्य करें ताकि उन्हें कर अपवंचन जैसी स्थितियों से न गुजरना पड़े।
वाणिज्यकर विभाग ने रोडवेज बस अड्डे के समीप जय महाकालेश्वर के प्रतिष्ठान पर कैंप लगाया और कस्बे के उन व्यापारियों जो अब तक बिना जीएसटी पंजीयन के व्यापार कार्य कर रहे थे, को बुला कर उनका जीएसटी में पंजीयन किया। इस दौरान विभाग के अधिकारी सीटीओ मानसिंह चंदेल, सीनियर असिस्टेंट विवेककुमार पटैरया, ताजुद्दीन, आशीषकुमार आदि मौजूद रहे। इस दौरान 12 पंजीकरण किए गए।

Share Button

रामलीला की आड़ में जुआ हुआ तो नपेंगे आयोजक

प्रभारी निरीक्षक कोंच शैलेन्द्र सिंह

 रामलीला की परमीशन लेने के लिए देना होगा शपथ पत्र
कोंच। ग्रामीण अंचलों में रामलीला की आड़ लेकर जुआ खेलने और खिलाने की दुष्प्रवृत्ति को लेकर पुलिस महकमा इस पर नकेल कसने का मन बना चुका है। सीओ आरपी सिंह के निर्देश पर थाना पुलिस अब रामलीला की स्वीकृति लेने आने बालों से इस तरह का शपथ पत्र लेने की योजना बना रही है जिसमें आयोजकों को शपथ पत्र देना होगा कि रामलीला जैसे पवित्र आयोजन की आड़ में अगर जुआ सट्टा जैसे काम होंगे तो इसके लिए आयोजकों को पूरी तरह से जिम्मेदार टहराया जाएगा और उनके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।
बुंदेलखंड खासतौर पर जनपद जलौन के ग्रामीण अंचलों में होने बाली रामलीलाओं की आड़ में जुआ सट्टा जैसे सामाजिक अपराधों की दुष्प्रवृत्ति काफी पहले से चलन में है और इसके कारण कभी कभी बड़े और जघन्य अपराधों का जन्म भी होता रहता है। इस दुष्प्रवृत्ति पर नकेल कसने के लिए सीओ कोंच आरपी सिंह ने नया फंडा अपनाया है और इस बाबत सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। सीओ द्वारा दिए गए निर्देशों के बाबत कोतवाली प्रभारी शैलेन्द्र सिंह ने बताया है कि रामलीला की परमीशन लेने के लिए जो आएगा उनसे स्टाम्प पेपर पर शपथ पत्र लिया जाएगा कि रामलीला की आड़ में जुआ जैसे अपराध कतई नहीं होंगे। इस तरह के मामले अगर सामने आते हैं तो इसके लिए आयोजक को भी दोषी माना जाएगा और उसके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की जाएगी। समझा जा रहा है कि पुलिस के इस नए फंडे से रामलीलाओं की आड़ में संचालित जुए के फड़ों में काफी हद तक कमी आएगी।

Share Button

जरूरतमंदों की मदद करना ही सच्ची सेवा है-विधायक

दिवंगत समाजसेवियों के चित्रों पर श्रद्घांजलि देते विधायक व ब्लॉक प्रमुख
कंबलों का वितरण करते ब्लॉक प्रमुख

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
* ग्राम अंडा में बाबूराम मास्टर के माता पिता की स्मृति में जरूरतमंदों को बांटे कंबल व स्वेटर
कोंच। एक बार फिर लौट कर आई ठंड के बीच ठिठुरन से परेशान जरूरतमंदों को राहत देने के लिए समाजसेवी आगे आकर उनकी मदद कर रहे हैं। सेवानिवृत्त पटेल कल्याण समिति तथा पूर्व शिक्षक रामबाबू निरंजन व रामस्वरूप दाऊ के सह तत्वाधान में कोंच विकास खंड के ग्राम अंडा में कंबल व स्वेटर वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। एक संक्षिप्त समारोह में गांव के असहाय और जरूरतमंद पुरुषों व महिलाओं को कंबल और स्वेटर प्रदान किए गए। ये कंबल और स्वेटर गांव के ही पूर्व शिक्षक रामबाबू निरंजन व रामस्वरूप दाऊ के सौजन्य से उनके माता पिता की स्मृति में बांटे गए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक मूलचंद्र निरंजन ने इस अवसर पर कहा कि जरूरतमंदों की मदद करना ही सच्ची मानव सेवा है। संचालन रामप्रकाश पडऱी ने किया। इस दौरान सुरेश निरंजन भैयाजी, ब्लॉक प्रमुख ऐन्द्रकुमार निरंजन, प्रो. वीरेन्द्रसिंह, शारदा मास्टर भदारी, जिपं अध्यक्ष प्रतिनिधि देवेन्द्र निरंजन, पूर्व तहसीलदार लल्लूराम, विजयसिंह, सीताराम, रामबाबू, मानसिंह, कुंजविहारी, गुलाबसिंह सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

Share Button

ई-ट्रेडिंग किसानों व व्यापारियों के हित में-मंडी सचिव

ई-नैम दिवस पर व्यापारी को सम्मानित करते मंडी सचिव

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। ई-नैम दिवस पर यहां अधिकारियों ने ई-ट्रेडिंग और ई-पेमेंट अपनाए जाने पर बल देते हुए किसानों और व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहा कि ई-ट्रेडिंग का लाभ किसानों और व्यापारियों को समान रूप से मिलेगा।
प्रत्येक माह की 14 तारीख को आयोजित होने बाले ई-नैम दिवस पर मंगलवार को गल्ला मंडी में आहूत कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोलते हुए मंडी सचिव मलखान सिंह ने कहा, शासन की मंशा किसानों और व्यापारियों के लिए लाभ के अधिक अवसर मुहैया कराने की है और नई तकनीक का इस्तेमाल कर दोनों को ई-ट्रेडिंग से जोडऩे का काम किया जा रहा है। ई-नैम के तहत सर्वाधिक ई-ट्रेड करने बाले व्यापारियों देववृत, सीताशरण निरंजन तथा संजय कुमार को ‘ई-नैमश्री’ व किसान कपिल ग्राम पिंडारी को ‘ई-नैम कृषकश्री’ की उपाधियों से सम्मानित किया गया। इस दौरान मनोहर निरंजन, अरविंद निरंजन, रामस्वरूप बसोव, हरीमोहन सौनकिया, अखिलेशकुमार, अजीमखां, इस्लाम, अशोककुमार, रमेशचंद्र, सुरेशकुमार, हरिशंकर नगाइच, बलराम, हरीशंकर, बलराम, रविकुमार आदि मौजूद रहे।

Share Button

रामलीला मंचन देख मुग्ध हो गए दर्शक

नदीगांव मेले में रामलीला का मंचन करते कलाकार

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। सामाजिक एकता उत्थान सेवा समिति के तत्वाधान में नगर पंचायात नदीगांव द्वारा मां सिंह वाहिनी मेला महोत्सव में चल रही रामलीला में रविवार की रात अहिल्या उद्वार, जनक बाजार, पुष्प वाटिका लीला का मंचन किया गया। राम का अभिनय पप्पू पुरवार झांसी, लक्ष्मण सीपू तिवारी खकसीस, रावण पप्पू दुवे सोमई, जनक राजू कंचन कनासी, आहिल्या रामसरन सरल, बहुआयामी कलाकार सुरेन्द्र पाराशर, नृत्यंगना काजल रानी और मोनिका रानी दिबियापुर, जोकर पंचम अलवेला, व्यास जी मुनीश नादान उरई, ढोलक मंगल मस्ताना हमीरपुर, पेड उपेन्द्र खरे गुरसरांय रहे। व्यवस्थापक राजेन्द्र स्वर्णकार, माताप्रसाद जारोलिया, परमाल सिंह परिहार, अशोक झा, शैलेन्द्र परिहार, बिब्बू परिहार, शुभम, नंदलाल चौरसिया, संतोष चौरसिया, सचिन खरे आदि सहयोग कर रहे थे।

Share Button

सफलता के लिये एक्टिंग के साथ बेहतरीन संवाद संप्रेषण जरूरी-पुनीत

सभागार में उपस्थित इप्टा रंगकर्मी
रंगकर्मियों को अभिनय के गुर बताते सिने जगत से जुड़े लोग

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
* ‘सितारों से संवाद’ कार्यक्रम में सिने कलाकारों ने इप्टा रंगकर्मियों को बताए अभिनय के गुर
कोंच। मुंबई से आए थियेटर प्रशिक्षक पुनीत नामदेव ने कहा, सिनेमा में सफलता के लिये भाषा पर विशेष काम करना होगा, साथ ही संवाद संप्रेषण भी बेहतरीन होना चाहिए। शब्दों के फर्क को समझ कर उनका सही उच्चारण करना बेहद जरूरी है। यह बात उन्होंने भारतीय जन नाट्य संघ इप्टा इकाई कोंच द्वारा आयोजित ‘सितारों से संवाद’ कार्यक्रम के तहत कही।
अमरचंद्र महेश्वरी इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में आए पुनीत नामदेव ने रंगकर्मियों को बताया कि आप सभी के अंदर टेलेंट है, खुद को प्रदर्शित करने की क्षमता भी है, आप बेहतर नहीं बल्कि बेहतर से बेहतर भी कर सकते है और अपना कैरियर इस कार्यशाला के माध्यम से मुंबई तक ले जा सकते है लेकिन लक्ष्य पर फोकस रखते हुए निरंतर मेहनत करनी होगी। ‘मनु द डॉटर’ जैसी फिल्मों की सिंगर नंदिनी ने कहा, रंगकर्मियों में बेशुमार प्रतिभा है इस प्रतिभा को जाया न होने देना। कोंच जैसी छोटी जगह में इस तरह का निखार वास्तव में तारीफ के काबिल है। उन्होंने रंगकर्मियों को गायन से संबंधित टिप्स भी दिए। अभिनेता पवन ने कहा, टेक्नोलॉजी की दुनिया ने हमें इतने डिजिटल प्लेटफार्म दे दिए हैं कि अपने शहर अपने घर में रहकर भी उनमें अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकते और अपना नाम रोशन कर सकते हैं। फिल्म निर्माता अर्जुन रायकवार ने अपनी प्रोडक्शन कंपनी में आने वाले म्यूजिक एलबम व अन्य प्रोजेक्ट्स में इप्टा के रंगकर्मियों को भी शामिल करने का भरोसा दिया। इप्टा कोंच के संरक्षक अनिल वैद ने आभार जताया। संचालन सचिव पारसमणि अग्रवाल एवं ट्विंकल राठौर ने किया। रंगकर्मियों ने अपनी प्रस्तुतियां भी दीं। इस दौरान आए हुए अतिथियों का बैच अलंकरण कर स्वागत किया गया। आस्था बाजपेयी, साइना, रानी, इकरा, ऋचा गर्ग, नैन्सी अग्रवाल, हनी, सेंकी, प्रथम, कोमल बाजपयी, तैय्यबा सिद्दीकी, अंकुल राठौर, योगवेन्द्र कुशवाहा, अमन, तासू आदि उपस्थित रहे।

Share Button

कैलिया में पुलिस और पब्लिक के बीच तीखी झड़प

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
* मामला धार्मिक आयोजन और मेले के बीच पहुंची पुलिस द्वारा कार्यक्रम रुकवाने का
* पुलिस का कहना है कि आयोजनकर्ता बिना परमीशन के करवा रहे थे अश्लील डांस
कोंच। मंगलवार की देर रात कैलिया में भंडारे और मेले के बीच पहुंची पुलिस ने सख्ती बरतते हुए चल रहा कार्यक्रम बंद करा दिया जिससे वहां पब्लिक बौखला गई और दोनों के बीच तीखी नोंक झोंक हो गई। बबाल ज्यादा बढता देख कोंच से सीओ शीशराम सिंह कोतवाली पुलिस को साथ लेकर मौके पर पहुंच गए। काफी देर तक वहां हंगामा कटता रहा और पुलिस के इस वर्ताव को लेकर पब्लिक काफी गुस्से में रही। बताया गया है कि सीओ ने किसी तरह लोगों को समझा बुझा कर शांत कराया। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने बिना किसी इत्तेला के वहां चल रहे कार्यक्रम को न केवल बंद करा दिया बल्कि भंडारे के वर्तन भांड़े भी उलट पुलट कर डाले जिससे लोग भडक़ गए। इधर, पुलिस इन आरोपों को सिरे से नकार रही है। पुलिस का कहना है कि आयोजनकर्ता बिना परमीशन के वहां बाहर से बुलाई गई लड़कियों का अश्लील डांस करवा रहे थे जिससे वहां अराजकता की स्थिति बन गई थी। पुलिस ने भंडारा बंद कराने के आरोपों को भी बेबुनियाद बताया है।
गौरतलब है कि दीपावली से लेकर दो तीन दिन तक श्रद्घालुओं की भीड़ रतनगढ माता मंदिर दर्शन कि लिए जाते रहते हैं। कैलिया थाना क्षेत्र के ग्राम सलैया के पास भी इस तरह का एक स्थान है जहां मेला लगता है। श्रद्घालुओं के लिए इलाकाई ग्रामीण तीन दिन तक भंडारे का आयोजन कैलिया गांव के बाहर नाले के पास करते हैं और इसी को मेले का रूप भी दे दिया जाता है। मंगलवार की देर रात पुलिस को सूचना मिली कि वहां लोगों का भारी जमावड़ा है और डीजे आदि तेज आवाज में बजाए जा रहे हैं। एसओ महेश दुवे दल बल के साथ मौके पर पहुंच गए और चल रहा कार्यक्रम न केवल बंद करा दिया बल्कि लाउडस्पीकर और साउंड बॉक्स आदि भी वहां से उठा कर ले गए। पुलिस की इस हरकत से लोग बौखला गए और उनकी पुलिस से काफी देर तक मुंहनोंची होती रही। वहां हो रहे बबाल की सूचना पर सीओ शीशराम सिंह कोंच के प्रभारी निरीक्षक ललितेश नारायण त्रिपाठी और यहां की पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गए। भीड़ में मौजूद लोग आरोप लगा रहे थे कि कैलिया पुलिस ने यहां जमकर तांडव किया और भंडारे का सामान भी तहस नहस कर दिया। हालांकि सीओ के काफी समझाने बुझाने के बाद मामला किसी तरह शांत हो गया। पुलिस ने साउंड बॉक्स और लाउडस्पीकर आदि भी लौटा दिए थे।

एसओ कैलिया महेश दुवे

बोले एसओ, बिना परमीशन हो रहा अश्लील डांस बंद कराया
कोंच। इस मामले में एसओ कैलिया महेश दुवे का कहना है कि उन्होंने भंडारा कतई नहीं बंद कराया बल्कि उन्होंने लाउडस्पीकर पर भी कहा कि भंडारा चालू रखा जाए लेकिन उन लोगों ने रचना रचते हुए भंडारे का सामान तितर बितर किया है और आरोप पुलिस पर जड़ रहे हैं। उन्होंने बिना परमीशन के वहां हो रहे अश्लील डांस को बंद कराया गया था। उन्होंने बताया कि वह सलैया मेले से लौट रहे थे तो उन्हें कुछ हवाई फायरों की भी आवाजें सुनाई दीं जिस पर उन्होंने वहां रुक कर देखा तो वहां पर बाहर से बुलाई गई लड़कियों का डांस करवाया जा रहा था और वहां अराजकता का माहौल था। इस आयोजन की परमीशन भी नहीं थी, उन्होंने अपना काम कानून के तहत किया है और सारी स्थिति से उच्चाधिकारियों को अवगत भी कराया है। आगे की कार्यवाही उच्चाधिकारियों के निर्देश पर की जाएगी।

Share Button

पति-पत्नी के बीच विवाद में कूदा तीसरा, धुनक दिया पति को

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। ग्राम तीतरा खलीलपुर में एक दंपति अपने घर में घरेलू मामले में बातचीत कर रहे थे। इसी बीच पत्नी ने फोन कर गांव के एक व्यक्ति को बुला लिया जिसने उसके पति की धुनाई कर दी। पति ने कोतवाली पुलिस को शिकायती पत्र भी दे दिया है। मंगलवार की रात लगभग 9 बजे ग्राम तीतरा खलीलपुर निवासी दीपू पटेल पुत्र जगदीश अपनी पत्नी रागिनी से आपस में बातचीत कर रहे थे। बातों ही बातों में बात इतनी आगे बढ गयी कि पत्नी ने फोन मिला कर गांव के दीपक यादव पुत्र वीरसिंह यादव को बुला लिया। दीपक ने दीपू की बुरी तरह पिटाई गला दी जिससें उसके शरीर मे कई जगह चोटें आई हैं। कोतवाली पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर कार्यवाही की मांग कर रहा है। पुलिस ने जांच कर कार्यवाही करने की बात कही है।

Share Button

मवेशियों से भरी पिकअप पकड़ी बजरंग दल ने

पिकअप में ठूंस कर भरे गए मवेशी
मौके पर मौजूद पुलिस व बजरंग दल कार्यकर्ता

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
* कोतवाली पुलिस ने कब्जे में लिए मवेशी, पशु क्रूरता अधिनियम में मामला दर्ज
कोंच। बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने मंगलवार की रात जानवरों से भरी एक पिकअप को पकड़ कर पुलिस को बुला लिया। पिकअप में एक दर्जन से ज्यादा मवेशियों को भूसे की भांति ठूंस कर भरा गया था। पिकअप चालक मौके से भाग निकला। पुलिस ने पिकअप और मवेशी कब्जे में लेकर पशु क्रूरता अधिनियम में मामला दर्ज कर लिया है।
जानकारी के मुताबिक शाम लगभग सात बजे बजरंग दल कार्यकर्ताओं को जानकारी मिली कि खेड़ा चौकी के समीप जा रही एक पिकअप में भूसे की तरह ठूंस कर भरे गए जानवरों को कहीं बेचने के लिए ले जाया जा रहा है। सूचना मिलते ही बजरंग दल के कार्यकर्ता तत्काल कैलिया बाईपास स्थित मरघट के समीप पहुंच गए और पिकअप रुकबा कर पूछताछ करने लगे। इसी बीच मौका पाकर पिकअप चालक फरार हो गया। सूचना देकर पुलिस को मौके पर बुला लिया गया। खेड़ा चौकी इंचार्ज राजवीर सिंह ने पिकअप को अपने कब्जे में ले लिया है। बताया गया कि पिकअप नं. यूपी 32 सीजेड 7788 में चौदह भैंसे और एक पडिय़ा को बहुत बुरी तरह ठूंस कर भरा गया था। इस दौरान बजरंग दल के नगर संयोजक आकाश उदैनिया, आयुष गौतम, शीलू कुठोलिया, प्रशांत, योगेश, सुमित कुशवाहा, रोहित वर्मा आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे। कोतवाली पुलिस ने पिकअप यूपी 32 सीजेड 7785 तथा अमानत पुत्र जहूर कुरैशी निवासी कसाई मंडी कोंच के खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम में मामला पंजिकृत कर लिया है।

Share Button

ट्रैक्टर ने मारी आपे में टक्कर, चार घायल

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। मां रतनगढ के दर्शन कर लौट रहे दर्शनार्थियों के ऑटो में सीएचसी के पास ट्रैक्टर ने टक्कर मार दी जिससे ऑटो अनियंत्रित हो कर पलट गई और उसमें बैठे चार लोग घायल हो गए।
मंगलवार की रात लगभग 10 बजे उरई रोड पर सीएचसी के पास एक ट्रैक्टर ने ऑटो में जोरदार टक्कर मार दी। ऑटो अनियंत्रित होकर पलट गया और उसमें बैठी सवारियां रोड पर जा गिरीं। दुर्घटना में चार लोग प्रतिमा पत्नी सुरजीत, सुरजीत पुत्र रामकिशुन निवासी कदौरा, रामचरण पुत्र गोविंद निवासी चतेला तथा ऑटो चालक नितेन्द्र पुत्र मुन्नीलाल निवासी नया पटेल नगर उरई बुरी तरह घायल हो गए। सूचना पर कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी थी। घायलों को कोंच सीएचसी में भर्ती कराया गया। बताया गया कि ऑटो रतनगढ देवी के दर्शन कर बापिस लौट रहा था। कोतवाली पुलिस ने नितेन्द्र की तहरीर पर धारा 279, 338, 427 में ट्रैक्टर चालक के विरुद्घ मामला पंजिकृत कर लिया है।

Share Button

खंती में गिरी अनियंत्रित बाइक, सवार की मौत

मौके पर मौजूद कोतवाली पुलिस

कोंच से पी. डी. रिछारिया वरिष्ठ पत्रकार
कोंच। खूनी सडक़ के नाम से नाम से कुख्यात कोंच-उरई रोड पर एक बार फिर बरपा है रफ्तार का कहर। मंगलवार की रात ग्राम मनोरी के पास एक अनियंत्रित बाइक सडक़ किनारे खंती में जा गिरी और बाइक सवार की मौत हो गई। मृतक ग्राम अंडा कर निवासी है। जानकारी के मुताबिक ग्राम अंडा निवासी मनीषकुमार निरंजन पुत्र धन्वंतर सिंह देर रात उरई से अपने गांव अंडा आ रहा था। अभी उसकी बाइक ग्राम मनोरी के पास ही पहुंची थी कि मनीष हैंडिल पर से नियंत्रण खो बैठा और बाइक सडक़ किनारे खंती में जा गिरी। बताते हैं कि मनीष रात भर खंती में पड़ा रहा और उपचार नहीं मिल पाने के कारण उसकी मौत हो गई। सुबह कुछ ग्रामीण वहां से गुजरे और खंती में शव पड़ा देख यूपी 100 तथा कोतवाली पुलिस को सूचना दे दी। यूपी 100 के अलावा कोतवाल ललितेश नारायण त्रिपाठी, सागर चौकी इंचार्ज सुरेन्द्रसिंह दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और शव का पंचायतनामा भरवा कर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है। गौरतलब है कि इस सडक़ पर आए दिन होने बाले हादसों में अब तक दर्जनों लोग लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

Share Button